न्यूज़

एक साल के भीतर पोता दो या हर्जाने के तौर पर दो पांच करोड़ रुपये

Report ring desk

हरिद्वार। हरिद्वार में एक मां बाप अपने बेटे और बहू से इसलिए नाराज हैं कि शादी के कई साल बाद भी उन्हें पोता नहीं मिल पाया। बुजुर्ग दंपती ने बेटे और बहू पर पांच करोड़ के हर्जाने का केस किया  है। तृतीय एसीजे एसडी कोर्ट ने अगली सुनवाई के लिए 17 मई की तिथि तय की है। यह मामला चर्चा का विषय बना हुआ है।

हरिद्वार में सिडकुल क्षेत्र की हरिद्वार ग्रीन कालोनी निवासी साधना प्रसाद व उनके पति संजीव रंजन प्रसाद ने अपने अधिवक्ता अरविंद श्रीवास्तव के माध्यम से तृतीय अपर सिविल जज (सीनियर डिवीजन) की अदालत में हर्जाने का दावा दाखिल किया है।

जिसमें कहा गया कि उन्होंने अपने बेटे की पढ़ाई में दिल खोलकर पैसा खर्च किया। 35 लाख रुपये खर्च कर पायलट की ट्रेनिंग के लिए अमेरिका भेजा। फिलहाल उनका बेटा एक प्रतिष्ठित एयर लाइंस कम्पनी में बतौर पायलट कैप्टन तैनात है। दिसंबर 2016 में उन्होंने  बेटे की शादी सेक्टर 75 नोएडा निवासी युवती से कराई थी । बहू व बेटे की खुशी के लिए 65 लाख की आडी कार लोन पर खरीद कर दी। जब उन्होंने बहू व बेटे को पोता-पोती पैदा करने आग्रह किया तो दोनों साजिश के तहत अलग अलग रहने लगे।

बहू व बेटे पर पोता-पोती के सुख से वंचित कर मानसिक पीड़ा व उत्पीड़न करने का आरोप लगाते हुए बुजुर्ग दंपती ने कोर्ट में याचिका दायर की और बेटे व बहू से ढाई-ढाई करोड़ रुपये दिलाने की मांग की है। ताकि उनका गुजारा हो सके।



Leave a Reply

Your email address will not be published.