न्यूज़

बर्ड फ्लू की आहट के बाद प्रवासी परिंदों ने बढ़ाई चिंता

Report ring desk

देहरादून। देश में बर्ड फ्लू की दस्तक के बाद प्रवासी परिंदों ने उत्तराखंड में चिंता बढ़ा दी है। हालांकि, वन विभाग एहतियातन तमाम कदम उठाने का दावा कर रहा है। अभी तक उत्तराखंड में बर्ड फ्लू की पुष्टि नहीं हुई है। हिमाचल, राजस्थान और केरल में बड़ी संख्या में बर्ड फ्लू से पक्षियों की मौत से हड़कंप मचा हुआ है। बर्ड फ्लू की आहट से मुर्गी व्यवसाय प्रभावित हो गया है। इससे मुर्गियों दाम गिरने लगे हैं।

उत्तराखंड में करीब एक लाख हेक्टेयर भूमि में 994 वेटलैंड हैं। सर्दियों में इन वेटलैंड में मध्य एशिया से बड़ी संख्या में प्रवासी परिंदे पहुंचते हैं, जो मार्च तक यहां रहते हैं।

आसन कंजर्वेशन रिजर्व, झिलमिल झील, नानकसागर बांध, तुमड़ि‍या बांध, हरिपुरा, बेगुल, बौर सहित अन्य जलाशयों में प्रवासी पक्षी बड़ी संख्या में आते हैं। वन विभाग इनकी निगरानी कर रहा है। विशेष टीम को जलाशयों से संपर्क बनाए रखने को कहा गया है।



Leave a Reply

Your email address will not be published.