न्यूज़

कर्नाटक ने सीएम को लिखा पत्र: सरकार नशे का कारोबार करने वालों के लिए बनाए सख्त कानून

युवा और स्कूली बच्चे भी आने लगे हैं नशे की चपेट में

Report ring Desk

अल्मोड़ा। एनएचआरएम के पूर्व उपाध्यक्ष बिट्टू कर्नाटक ने नशे के कारोबार में तत्काल रोक लगाने की मांग की है। जिलाधिकारी के माध्यम से मुख्यमंत्री को लिखे पत्र में कर्नाटक ने कहा है कि अल्मोडा पर्वतीय जनपदों के गांव-गांव तक ड्रग्स और नशा फैल चुका है। नशे की तस्करी और इसका व्यवसाय तेजी से बढ़ता जा रहा है।

कर्नाटक ने मुख्यमंत्री से मांग की कि आगामी विधान सभा सत्र में ड्रग्स/मादक पदार्थो के खिलाफ एक सख्त कानून बनाया जाए। नशे का कारोबार करने वाले लोगों के लिए आजीवन कारावास व मृत्यु दण्ड जैसी सख्त सजा का प्राविधान किया जाए। जिससे नई पीढ़ी को नशे के चंगुल से बचाया जा सके।

उन्होंने पत्र में लिखा है कि समाज में फैल चुकी इस बुरी लत ने युवाओं के अलावा अब बच्चों और छात्रों को अपने चपेट में ले लिया है। नशे का व्यवसाय करने वाले तश्कर युवाओं, छात्र-छात्राओं और बच्चों की मदद से मादक पदार्थो की बिक्री करने लगे हैं।

उन्होंने कहा कि नशीली चीजों का प्रयोग करने से बच्चों के स्वास्थ्य पर भी बुरा प्रभाव पड़ रहा है। बच्चों के शारीरिक और मानसिक स्थिति पर इसका गलत असर पड़ रहा है। इसलिए इसे समय रहते रोकने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि ड्रग्स मुक्त राज्य के संकल्प के बाद भी लचीले व सरल कानून व्यवस्था के कारण नशे का कारोबार तेजी से बढ़ रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.