न्यूज़

अण्डरब्रिज के रास्ते 38 परिवारों को रेलवे ने थमाया हटने का नोटिस

By Suresh Agrawal, Kesinga, Odisha

 लम्बे संघर्ष के बाद केसिंगा वासियों की झोली में आये रेलवे अण्डरब्रिज का सपना अब ज़ल्द ही साकार होने वाला है एवं अण्डरब्रिज हेतु आवश्यक कॉन्क्रीट बॉक्स निर्माण का कार्य शुरू भी हो चुका है। इस परिप्रेक्ष्य में अण्डरब्रिज कार्य हेतु अनुबंधित ठेकेदार से प्राप्त जानकारी के अनुसार अण्डरब्रिज हेतु कुल 48 बॉक्स बनाये जाने हैं, जिनकी बाहरी परिधि का आकार 6.25 x 6.1 मीटर होगा। यदि सब कुछ सामान्य ढ़ंग से चला तो इस वर्ष मध्य दिसम्बर तक इसका उपयोग शुरू हो सकता है।

वहीं दूसरी ओर रेलवे अण्डरब्रिज के दायरे में आने वाले केसिंगा नगरपालिका वार्ड क्रमांक तीन स्थित ओड़िया पड़ा एवं अम्बाजी मन्दिर पड़ा में रेलवे की भूमि पर रहने वाले कुल 38 परिवारों को रेलवे द्वारा आगामी 10 तारीख़ तक वहां से हटने का नोटिस ज़ारी कर दिया गया है, जिसके चलते विगत दो दशक से भी अधिक समय से काबिज़ उक्त परिवारों की नींद हराम हो गयी है। रेलवे का नोटिस मिलते ही तमाम परिवार अपनी चिंताओं से रूबरू कराने स्थानीय नगरपालिका प्रशासक के पास पहुँचे एवं उनसे अपने पुनर्वास हेतु गुहार लगायी गयी।

पालिका प्रशासक सिध्दार्थ पटनायक के अनुसार रेलवे की भूमि से बेदखल होने वाले उक्त परिवारों को पालिका क्षेत्र अन्तर्गत बोरिंगपदर स्थित सरकारी भूमि पर बसाने पर विचार किया जा रहा है, परन्तु यह प्रक्रिया समय सापेक्ष है, अतः इसमें कुछ विलम्ब हो सकता है। इस बारे में शासन एवं ज़िलाधीश कालाहाण्डी का ध्यानाकृष्ट किया गया है।

रेल विभाग के अनुसार ओड़िया पड़ा के 26 तथा अम्बाजी मन्दिर पड़ा के कुल 12 परिवार रेलवे की भूमि पर काबिज़ होने के कारण उन्हें अण्डरब्रिज निर्माण हेतु बेदख़ल करने की आवश्यकता पड़ी है।



Leave a Reply

Your email address will not be published.