न्यूज़

नशा मुक्ति केंद्र का संचालक गिरफ्तार, हत्या की सूचना नहीं देने और साक्ष्य छिपाने का आरोप

Report ring desk

हल्द्वानी। मुखानी पुलिस ने हरिपुर नायक कमलुवागांजा रोड स्थित आदर्श जीवन नशा मुक्ति केंद्र के संचालक राजीव जोशी को रविवार सुबह गिरफ्तार कर लिया। आरोप है कि संचालक ने केंद्र में प्रवीन की हत्या के बाद पुलिस को सूचना नहीं दी और हत्यारोपियों को बचाने के लिए शव को पिथौरागढ़ भिजवा दिया।

पुलिस के अनुसार पिथौरागढ़ जिले के देवलथल निवासी प्रवीन कुमार को नशा मुक्ति केंद्र में 23 अक्तूबर को भर्ती कराया गया था। एक अक्तूबर को मौत होने पर केंद्र संचालक ने शव को एंबुलेंस से उसके घर भिजवा दिया। परिजनों ने प्रवीन के शरीर पर डंडों की चोट के निशान को देखने के बाद मुखानी थाने में तहरीर दी।

पुलिस ने इस मामले में केंद्र के संचालक राजीव जोशी, सुपरवाइजर पीयूष कौशिक, कर्मचारी अभिषेक चंद्रा और अन्य के खिलाफ धारा 302 के तहत हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया। पुलिस ने विवेचना के बाद पीयूष कौशिक, अभिषेक चंद्रा, अभय उर्फ बिट्टू, अर्जुन रावत, बाबी अंसारी को हत्या के आरोप में गिरफ्तार कर लिया। एक नाबालिग को भी केंद्र से पुलिस ने पकड़ा, लेकिन किशोर न्याय बोर्ड के निर्देश पर पुलिस ने उसे बाल संरक्षण गृह भेज दिया।

जांच में पता चला कि छह लोगों ने प्रवीन को खंभे से बांध कर बेरहमी से पीटा था। हत्या का साक्ष्य छिपाने, पुलिस को सूचना नहीं देने के मामले में धारा 201, 202 के तहत रविवार सुबह संचालक राजीव जोशी को नशा मुक्ति केंद्र से गिरफ्तार कर लिया।



Leave a Reply

Your email address will not be published.