न्यूज़

सीमा सील, फिर भी नेपाल से हो रही जमकर तस्करी

  • एसएसबी जवानों ने 50 कट्टे चीनी मटर, हेलमेट और पिकप वाहन पकड़ा
  • दो तस्कर चढ़े हत्थे, बाकी नेपाल भागे

By Naveen Joshi
खटीमा। भारत-नेपाल की अंतरराष्ट्रीय सीमा सील होने के बावजूद तस्करी रुक नहीं रही है। शनिवार शाम एवं रात में एसएसबी जवानों ने मेलाघाट से सटी नेपाल सीमा पर चीनी मटर, हेलमेट और एक पिकप वाहन पकड़ा। अलबत्ता दो तस्कर एसएसबी जवानों के हत्थे चढ़े, जबकि शेष तस्कर नेपाल की ओर भाग गए।

मेलाघाट एसएसबी सी कंपनी के जवानों को पेट्रोलिंग के दौरान शनिवार शाम करीब चार बजे मुखबिर से सूचना मिली कि सीमा पर स्थित पिलर संख्या 796/1 के पास भारत सीमा के अंदर लगे गन्ने के खेत में कुछ लोग सिर पर रखकर मटर के कट्टे इकट्ठा कर रहे हैं। एसएसबी जवानों ने तुरंत सर्च आॅपरेशन चलाकर गन्ने के खेत से 16 कट्टे चीनी मटर और तीन हेलमेट बरामद किए, जबकि तस्कर नेपाल की ओर भाग गए। एसएसबी ने बरामद माल कस्टम विभाग खटीमा के सुपुर्द कर दिया। एसएसबी टीम में कंपनी कमांडर मनोहर लाल, एएसआई जीडी प्रेम सिंह, हेड कांस्टेबल दिनेश सिंह, मदन एवं अजय शामिल थे।


उधर, शनिवार रात एक बजे 57वीं वाहिनी एसएसबी सी कंपनी मेलाघाट और 49वीं वाहिनी एसएसबी बी कंपनी नौजलिया के जवानों को पेट्रोलिंग के दौरान सूचना मिली कि पिलर संख्या 796/17 के पास पिकप वाहन में कुछ लोग सामान लोड कर रहे हैं। इस पर दोनों टीमों ने दोनों तरफ से घेराबंदी कर पिकप (यूके 03सीए-0501) और उसमें लदे 34 कट्टे चीनी मटर बरामद कर लिए। जवानों ने दो तस्करों मो.जाकिर (47) और सिकंदर (22) को भी दबोच लिया, जबकि अन्य तस्कर अंधेरे का फायदा उठाते हुए नेपाल की ओर भाग गए। जवानों ने बरामद माल और तस्करों को कस्टम विभाग के सुपुर्द कर दिया।

57वीं वाहिनी सी कंपनी मेलाघाट की टीम में कंपनी कमांडर मनोहर लाल, एएसआई प्रेम सिंह, हेड कांस्टेबल दिनेश सिंह, संजय, योगेश सरदारमल वर्मा, विजय कुमार और 49वीं वाहिनी बी कंपनी टीम में कंपनी कमांडर उज्जवल सिंह, एएसआई राकेश कुमार, हेड कांस्टेबल पुष्पेंद्र कुमार, चरनजीत, अजय कुमार आदि शामिल थे।



Leave a Reply

Your email address will not be published.