WhatsApp Image 2023 08 28 at 08.03.05

Javelin Throw: Neeraj Chopra ने रचा इतिहास, पहली बार किसी इंडियन ने जीता Gold

 By Anil Azad Pandey

टोक्यो ओलंपिक के स्वर्ण पदक विजेता और इंडिया के वंडर बॉय नीरज चोपड़ा ने बेहद प्रतिष्ठित वर्ल्ड चैंपियनशिप के javelin Throw( भाला फेंक) में Gold medal जीतकर इतिहास रच दिया है। इसके साथ ही वह भारत के पहले एथलीट भी बन गए हैं, जिसने World Athletics Championships में देश को गोल्ड दिलाया है। नीरज चोपड़ा ने हंगरी की राजधानी बुडापेस्ट के नेशनल एथलेटिक्स सेंटर में चल रही चैंपियनशिप में 88.17 मीटर के थ्रो के साथ शानदार प्रदर्शन किया। इससे पहले पिछले साल वर्ल्ड एथलेटिक्स चैंपियनशिप में नीरज ने सिल्वर मेडल जीता था। इस तरह विश्व में होने वाली लगभग हर बड़ी भाला फेंक प्रतियोगिता में नीरज स्वर्ण पदक जीत चुके हैं। शायद ही इससे पहले भारत ने कभी कोई इतना चैंपियन एथलीट तैयार किया हो। यह भी जानकर हैरानी होती है कि अभी नीरज सिर्फ 25 साल के हैं और वे अपने नाम ओलंपिक गोल्ड(Tokyo Olympic 2021), वर्ल्ड एथलेटिक्स चैंपियनशिप गोल्ड (World Athletics Championships 2023), एशियन गोल्ड( Asian Games 2018), डायमंड लीग गोल्ड और राष्ट्रमंडल खेल गोल्ड ( Commonwealth Games 2018) आदि कर चुके हैं। इस तरह अगले साल होने वाले पेरिस ओलंपिक में देश को सोने का तमगा दिलाने की उम्मीदें उनसे बढ़ गयी हैं। भारत के तीन एथलीट पहुंचे थे फाइनल में यहां बता दें कि बुडापेस्ट में हुई इस चैंपियनशिप के क्वालीफाइंग राउंड में भी नीरज ग्रुप ए में नंबर एक पर रहे थे। उन्होंने 88.87 मीटर के शानदार थ्रो के साथ अगले ओलंपिक के लिए सीधे क्वालीफाई भी कर लिया।

WhatsApp Image 2023 08 28 at 08.03.55

यह कहने में कोई दोराय नहीं है कि हाल के दिनों में भारत में जेवलिन थ्रो के एथलीटों के स्तर बहुत सुधार आया है। इस वर्ल्ड चैंपियनशिप के फाइनल में पहली बार भारत के तीन एथलीट पहुंचे थे। नीरज के अलावा किशोर जेना और डीपी मनु ने भी अपने प्रदर्शन से बहुत प्रभावित किया। इस प्रतियोगिता में वे क्रमशः पांचवे और छठे स्थान पर रहे। जहां किशोर ने 84.77 मीटर(पर्सनल बेस्ट) और मनु ने 84.14 मीटर के थ्रो के साथ अपना बेस्ट प्रदर्शन किया। इसके चलते वे दोनों भी पेरिस ओलंपिक में हिस्सा ले पाएंगे। इस चैंपियनशिप में जहां इंडिया के नीरज चोपड़ा ने स्वर्ण पदक जीता, वहीं पाकिस्तान(Pakistan) के अरशद नदीम(Arshad Nadeem) ने रजत पदक जीतकर अपने देश के लिए इतिहास रचा।

उन्होंने 87.82 मीटर का थ्रो फेंका। जबकि चेक गणराज्य(Czech-Republic) के जाकुब वेदलेच ने 86.67 मीटर थ्रो फेंककर कांस्य पदक हासिल किया। नीरज को बधाईयों का तांता नीरज के इस प्रदर्शन पर देश और दुनिया के कोने-कोने में बसे भारतीयों में खुशी की लहर है। नीरज चोपड़ा को भारतीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर व भारतीय सेना समेत हर क्षेत्र से बधाई देने वालों का तांता लगा है। शायद ही इससे बड़ी सफलता किसी और भारतीय एथलीट ने आज तक अपने नाम की हो। नीरज ने जब से टोक्यो ओलंपिक में गोल्ड जीता, उसके बाद से ही देश में भाला फेंकने वाले एथलीटों की संख्या और उनके प्रदर्शन में काफी सुधार देखा गया है। देश में बच्चे-बच्चे की जुबान पर नीरज का नाम है। क्या कहा नीरज चोपड़ा ने बुडापेस्ट में गोल्ड जीतने के बाद बहुत खुश दिख रहे नीरज चोपड़ा ने कहा कि अब तक उनकी झोली में सिर्फ विश्व एथलेटिक्स चैंपियनशिप का गोल्ड नहीं आया था। लेकिन आज वह भी उन्होंने अपने नाम कर लिया है, जिससे वे संतुष्ट हुए हैं, हालांकि 90 मीटर भाला फेंकने का लक्ष्य अब भी उनके दिमाग में है। 

 

Follow us on Google News

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top