WhatsApp Image 2024 01 10 at 09.57.25

विजिलेंस ने विद्युत विभाग के दो कर्मियों को रिश्वत लेते रंगे हाथों धरा

 देहरादून। बिजली कनेक्शन के लिए रिश्वत मांगने वाले  दो लाइनमैनों को विजिलेंस ने रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। शिकायतकर्ती ने विजिलेंस को टोल फ्री नंबर पर शिकायत की कि उनके मकान को बने हुए 10 साल हो गये हैं। पहले मकान में बिजली मीटर का कनेक्शन उनके बेटे के नाम पर था। ऐसे में उन्होंने 22 फरवरी को अपने नाम से एक किलोवाट का नया बिजली कनेक्शन लेने के लिए अपने क्षेत्र के बिजली विभाग कार्यालय में आवेदन किया था।

उन्होंने क्षेत्र के लाइनमैन शशेन्द्र सिंह रावत से संपर्क किया गया तो शशेन्द्र रावत अपने साथी प्रमोद के साथ उनके आवास पर आये। बताया कि आपका कनेक्शन तो निरस्त हो गया तथा दोबारा जल्दी कनेक्शन लगाने के नाम पर पांच हजार रुपये रिश्वत मांगी ।  शिकायत पर विजिलेंस टीम सैक्टर देहरादून ने गोपनीय जांच की तो प्रथम दृष्टया सही पाये जाने पर तत्काल ट्रैप टीम का गठन किया ।

रविवार को लाइनमैन शशेन्द्र सिंह रावत और प्रमोद विद्युत विभाग, उपखंड मोहनपुर प्रेमनगर देहरादून को महेन्द्र चौक, प्रेमनगर देहरादून से शिकायतकर्ता से 4,500 रुपये रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया। निदेशक सतर्कता डा. वी0 मुरूगेशन ने ट्रैप टीम को नकद पुरस्कार से पुरस्कृत करने की घोषणा की है।

Follow us on Google News

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top