न्यूज़

गांव गांव पहुंच रहा टीम किशन भंडारी कारवां

Report ring desk

पिथौरागढ़। पिथौरागढ़ जिले की डीडीहाट विधानसभा क्षेत्र से पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष किशन सिंह भंडारी चुनाव की तैयारी में जुट गये हैं। वह विधानसभा क्षेत्र के गांवों का भ्रमण कर जनमस्याओं को सुन रहे हैं। साथ ही इनके समाधान का रास्ता भी ग्रामीणों को बता रहे हैं। भंडारी का राजनीतिक संबंध भाजपा से रहा है। 2017 के विधानसभा चुनाव में उन्होंने निर्दलीय चुनाव लड़ा और भाजपा को ही कड़ी टक्कर देकर दूसरे स्थान पर रहे थे।

इस चुनाव के बाद उन्होंने भाजपा तो ज्वाइन नहीं की अपने सहयोगियों के साथ ‘टीम किशन भंडारी’ को मजबूत बनाने में जुटे हैं। उनके सहयोगी गांव गांव जाकर लोगों को ‘टीम किशन भंडारी’ की सदस्यता दिला रहे हैं। जानकार बताते हैं कि उनके इस मिशन में अंदरखाने कुछ पुराने साथी भी पूरा सहयोग कर रहे हैं। 

पिछले दो तीन दिनों के जनसंपर्क पर नजर डालें तो पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष किशन भंडारी ने अपनी टीम के साथ आदिचौरा चामा, सिनी सुनारखेत, सोक्युडा, तवाबगड़ ,घुसाबगड़, दुनाकोट क्षेत्र में जनसम्पर्क किया। दूसरे दिन कनालीछीना में कौली हुड़की के लोगों ने उनसे मुलाकात की। टीम किशन भंडारी की सदस्यता ली।

इसके बाद भंडारी ने गौडीहाट, भटेड़ी चैड़ एसिरकुच क्षेत्र में जनसंपर्क किया और क्षेत्र की समस्याओं के बारे में बात की और उनके समाधान का आश्वासन दिया। इस इलाके में भी युवाओं ने टीम भंडारी की सदस्यता ली।

चुनाव में कनालीछीना की भूमिका अहम
डीडीहाट विधान सभा क्षेत्र में कनालीछीना विकास खंड अहम भूमिका रही है। 132 बूथों वाले डीडीहाट विस क्षेत्र में सर्वाधिक बूथ कनालीछीना में हैं। वर्ष 2012 से पूर्व तक कनालीछीना विधानसभा क्षेत्र था। नए परिसीमन के बाद कनालीछीना सीट समाप्त कर डीडीहाट विस क्षेत्र में मर्ज कर दी गई। वर्तमान डीडीहाट सीट में सबसे बड़ा क्षेत्र कनालीछीना विकास खंड है।

पूर्व की कनालीछीना विस क्षेत्र पर नजर डाली जाए तो यहां पर वर्ष 2002 में उक्रांद के काशी सिंह ऐरी विजयी रहे। वर्ष 2007 में कांग्रेस के मयूख महर ने काशी सिंह ऐरी को हराया था। सीट के डीडीहाट में मर्ज किए जाने के बाद सीट से भाजपा के विशन सिंह चुफाल विजयी रहे। किशन भंडारी कनालीछीना विकासखंड के रहने वाले हैं। इसलिए इस क्षेत्र के लोगों की पसंद भी माने जा रहे हैं।

2017 में जीत के करीब पहुंचे थे भंडारी
डीडीहाट विधान सीट से 2017 में विशन सिंह चुफाल विजयी रहे। उन्हें 17392 मत प्राप्त हुए थे। जबकि निर्दलीय के प्रत्याशी किशन भंडारी को 15024 मत प्राप्त हुए। कांग्रेस तीसरे स्थान पर रही। कांग्रेस के प्रदीप सिंह पाल को 14470 मत मिले थे।



Leave a Reply

Your email address will not be published.