न्यूज़

क्षेत्रीय सम्मेलन में विवाह विच्छेद पर जतायी चिन्ता, उल्लेखनीय कार्यों के लिए किया सम्मानित

By Suresh Agrawal, Kesinga, Odisha

 उत्कल प्रादेशिक मारवाड़ी सम्मेलन की क्षेत्रीय सभा भवानीपटना स्थित अग्रसेन भवन में सम्पन्न हुई, जिसमें क्षेत्र के तहत आने वाली सम्मेलन की रुप्रारोड़, भवानीपटना, केसिंगा, जूनागढ़, धर्मगढ़, मदनपुर-रामपुर, रायगड़ा, मुनिगुड़ा, नवरंगपुर, पापड़ाहांडी, जैपुर, जयपटना तथा लड्डूगांव सहित तमाम तेरह शाखाओं के पदाधिकारियों ने भाग लिया। यूपीएमएस क्षेत्रीय उपाध्यक्ष सुभाषचंद्र अग्रवाल की अध्यक्षता में आयोजित इस महती सभा में यूपीएमएस प्रान्तीय अध्यक्ष गोविन्दराम अग्रवाल स्वयं बतौर मुख्य अतिथि मौज़ूद थे। मंचासीन अतिथियों में प्रान्तीय अध्यक्ष के अलावा प्रान्तीय उपाध्यक्ष दिनेश अग्रवाल, मण्डलीय उपाध्यक्ष सुभाषचन्द्र अग्रवाल, अखिल भारतीय मारवाड़ी फेडरेशन राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य गौरीशंकर अग्रवाल, दीपक गुप्ता, शंकर अग्रवाल तथा नरेन्द्र अग्रवाल के नाम शामिल हैं। कार्यक्रम का आगाज़ मण्डलीय सचिव दीपक गुप्ता द्वारा कराये गये अतिथि परिचय से हुआ। तत्पश्चात कोरोनाकाल में दिवंगत हुये भवानीपटना शाखा के दो वरिष्ठ सदस्य मुरारीलाल अग्रवाल एवं राधेश्याम अग्रवाल का स्मरण करते हुये उनके सम्मान में एक मिनट का मौन रखा गया।


सर्वप्रथम भवानीपटना शाखाध्यक्ष श्रवण कुमार अग्रवाल ने उपस्थित पदाधिकारियों को सम्बोधित करते हुये अपने सम्बोधन में सभा आयोजन का मौक़ा देने हेतु प्रान्तीय अध्यक्ष के प्रति आभार प्रकट किया एवं वर्तमान दौर में विवाह विच्छेद को समाज की सबसे बड़ी समस्या करार दिया। उन्होंने कहा -इस समस्या का समाधान न्यायालय में सम्भव नहीं, अपितु इसके लिये सामाजिक भूमिका पर सोच-विचार किया जाना अत्यावश्यक है। यूपीएमएस के साथ मारवाड़ी युवा मंच तथा महिला मण्डल के तालमेल की अहमियत का उल्लेख करते हुये उन्होंने इन्हें सम्मेलन के दो हाथ बतलाया।
क्षेत्रीय उपाध्यक्ष सुभाषचन्द्र अग्रवाल ने जहाँ क्षेत्रीय सभा को कोरोनकाल के बाद का सबसे बड़ा कार्यक्रम करार दिया, वहीं उन्होंने यह आश्वासन भी दिया कि समाज के लिये भवानीपटना शाखा कुछ भी करने को सदैव तत्पर रहती है, रहेगी।

पूर्व यूपीएमएस प्रान्तीय अध्यक्ष एवं शिक्षा विकास समिति चेयरमेन नकुल अग्रवाल द्वारा समिति के गठन एवं उद्देश्यों की चर्चा करते हुये कहा गया -यद्यपि, कोरोना के चलते इसका काम कुछ बाधित अवश्य हुआ है, परन्तु यह हमारा दृढ़निश्चय है कि धन की कमी के चलते किसी की शिक्षा बाधित न हो। उन्होंने समिति की वित्तीय स्थिति की भी जानकारी दी और बतलाया कि समिति अब तक 95 विद्यार्थियों को उच्च शिक्षा हेतु आर्थिक सहायता प्रदान कर चुकी है। उन्होंने प्रान्तीय अध्यक्ष द्वारा मेधावी छात्र सम्मान (प्रशस्ति-पत्र) दिये जाने की भी सूचना प्रदान की।


अपने महत्वपूर्ण सम्बोधन में प्रान्तीय अध्यक्ष गोविन्दराम अग्रवाल ने स्वीकार किया कि -कोरोना के कारण हमारे कार्यों की रफ़्तार कुछ धीमी अवश्य हुई, परन्तु उसे कभी रुकने नहीं दिया गया और 85 वर्ष पुरानी यह संस्था देश में अपने सामाजिक कर्तव्यों का निर्वहन भली-भांति करती आ रही है। उन्होंने उपस्थित सम्मेलन की तमाम शाखाओं से आग्रह किया कि -वे कम से कम एक बच्चे को पढ़ाई के लिये गोद लें, क्योंकि एक बच्चे को शिक्षित करना एक पीढ़ी को शिक्षित करने जैसा है। मारवाड़ी समाज द्वारा जहां रहता है, वहीं की संस्कृति को अपना लेना, उसकी सबसे बड़ी विशेषता बतलाया। इसके अलावा उन्होंने प्रान्तीय सम्मेलन द्वारा अपनी शाखाओं को ऑक्सीजन मशीन पर पचास प्रतिशत की छूट, चल नेत्र-परिक्षण सुविधा के ज़रिये स्कूली विद्यार्थियों का नेत्र-परीक्षण एवं उन्हें निःशुल्क चश्मा प्रदान किये जाने की भी घोषणा की। उन्होंने देश के महान उद्योगपति घनश्यामदास बिड़ला द्वारा अपने पुत्र को लिखे सबसे सुन्दर पत्र की एक कृति भी भवानीपटना शाखा को प्रदान की और यह भी कहा कि -हम अमरीका के पूर्व राष्ट्रपति अब्राहम लिंकन द्वारा अपने पुत्र को लिखे दुनिया के सर्वोत्कृष्ट पत्र को भी मुद्रित करवाने जा रहे हैं।

कार्यक्रम के पूर्वार्ध्द में भवानीपटना शाखा के रमेश जैन द्वारा मंच संचालन किये जाने के बाद उसकी बागडोर प्रान्तीय सचिव दिनेश अग्रवाल के हाथ आ गयी और उन्होंने विस्तारपूर्वक शेष गतिविधियों का संचालन किया। इस दरम्यान -संगठन एवं वैवाहिक परिचय- विषय पर परिचर्चा भी चलती रही एवं विभिन्न क्षेत्रों में महत्वपूर्ण योगदान देने वाले समाज के लोगों को भी सम्मानित किया गया। भवानीपटना सत्र न्यायालय में पदस्थ अतिरिक्त सिविल जज ऋतिका गर्ग, वरिष्ठ पत्रकार सुरेश अग्रवाल के अलावा केसिंगा के जगदीश प्रसाद अग्रवाल, बजरंगलाल जैन (समाज सेवा), राहुल गोयल (आईपीएस), विनय जैन, राज़ा जैन, मोहित जैन (तीनों एमबीबीएस) तथा आदर्श अग्रवाल (ओपीएससी) उन अनेक लोगों में शामिल हैं, जिन्हें प्रान्तीय अध्यक्ष गोविन्दराम अग्रवाल के हाथों सम्मानित किया गया।



Leave a Reply

Your email address will not be published.