न्यूज़

अब परीक्षा के लिए इधर उधर भागने की जरूरत नहीं, टैबलेट ने की राह आसान

Report Ring Desk

देहरादून। उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग (यूकेएसएससी) ने डिजिटल इंडिया की ओर एक और कदम बढ़ाकर कुमाऊं के चार जिलों में टैबलेट से परीक्षा कराने का निर्णय लिया है। अभ्यर्थी स्क्रीन टच मोबाइल की तरह इस टैबलेट को आसानी से चला सकेंगे।

कुमाऊं के दूरस्थ क्षेत्रों के सेंटरों पर कंप्यूटर की व्यवस्था नहीं होने से युवाओं को ऑनलाइन परीक्षा देने के लिए हल्द्वानी या अन्य शहरों में जाना पड़ता है। इससे युवाओं का समय और पैसा भी काफी खर्च होता है। कई बार अपने शहर में केंद्र नहीं होने से युवा परीक्षा भी छोड़ देते हैं।

इस समस्या का समाधान करने के लिए यूकेएसएससी ने महत्वपूर्ण कदम उठाया है। कुमाऊं के पिथौरागढ़, अल्मोड़ा, बागेश्वर और चंपावत के परीक्षा केंद्रों में पहली बार अभ्यर्थी टैब पर प्रतियोगी परीक्षा देंगे। 15, 16 और 17 मार्च को आशुलिपिक, वैयक्तिक सहायक और लेखा लिपिक के लिए होने वाली परीक्षा के लिए आयोग ने 465 टैबलेट का इंतजाम किया है।

आयोग के सचिव संतोष बडोनी का कहना है कि टैबलेट में पेपर का समय शुरू होते ही अभ्यर्थी केवल टच करके अपना उत्तर दे सकेंगे। इसमें जूम करने का विकल्प नहीं होगा। तकनीकी बाधा आने पर पेपर का समय स्वत ही आगे बढ़ जाएगा।



Leave a Reply

Your email address will not be published.