साहित्य

बुलंद हौसला…

By GD Pandey, Delhi

जिंदगी का बीज मंत्र है बुलंद हौसला,
संघर्ष से ही बुलंद होता है हौसला,
संघर्ष करते रहोए हौसला जुटाते रहो,
निर्धारित दिशा में आगे बढ़ते रहो,
असफलता अथवा आंशिक सफलता भी अस्वाभाविक नहीं,
पूर्ण सफलता की राह दिखाता है हौसला,
जिंदगी का बीज मंत्र है बुलंद हौसला।

तिनका तिनका जुटाकर बना डालती है घोंसला,
सफलता की गारंटी दर्शाता है चिड़िया का हौसला
शरीर के वजन से भी भारी दाना,
लेकर ऊंची ऊंची दीवारों में चढ़ जाना, चढ़ते गिरते चढ़ते,
गंतव्य तक पहुंच जाना,
बुलंद हौसलों की मिसाल है चींटी का हौसला,
जिंदगी का बीज मंत्र है बुलंद हौसला।

ओलंपिक और पैरा ओलंपिक खेलों में मेडल लाना,
चांद, अंतरिक्ष और मंगल की यात्रा करके आना,
जल, थल और नभ में अनोखे करतब दिखाना,
जीवन रक्षक दवाइयां खोज कर मानव जीवन को बचाना,
आपदा में संकट मोचन बनकर दूसरों के प्राण बचाना ,
दुर्गम क्षेत्रों में रहकर दुश्मन के दांत खट्टे करना,
लक्ष्मी बाई,खुदीराम और भगत सिंह बनकर नौजवानों को प्रेरणा देना,
साधारण व्यक्तित्व से असाधारण योगदान का परिचय देना,
ऐसे सभी साहसिक कारनामों की जननी है बुलंद हौसला,
जिंदगी का बीज मंत्र है बुलंद हौसला।

हर इंसान कर सकता है कोई नया कारनामा,
सीख जाए अगर, परिस्थितियों में ढलना अन्यथा परिस्थितियों को अनुरूप करना
आंतरिक क्रांति का बिगुल बजा सकता है हौसला,
असंभव को संभव करके दिखा सकता है हौसला,
हौसलों को बरकरार और बुलंद रख सकता है हौसला,
जिंदगी का बीज मंत्र है बुलंद हौसला।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *