न्यूज़

ऐसे तेंदुए के मुंह से मां को बचा लाये बेटे

Report ring desk

पिथौरागढ़। पिथौरागढ़ के ग्रामीण इलाकों में तेंदुए का आतंक व्याप्त है। चंडाक क्षेत्र के आगर गांव में तेंदुए ने एक अधेड़ महिला पर हमला कर दिया। महिला की चीख पुकार सुनकर बेटे कमरे से बाहर आए और साहस दिखाकर मां को बचा लिया।

जबकि बृहस्पतिवार को दूसरी घटना रसौ पट्टी क्षेत्र के खोली गांव की है। यहां तेंदुए ने एक महिला का मार दिया। तेंदुए के आतंक से सायं होते ही लोग घरों में दुबक जा रहे हैं। ग्रामीणों ने वन विभाग से तेंदुए के आतंक से निजात दिलाने की मांग की है।

बुधवार सायं लगभग 8 बजे ग्राम आगर निवासी माया देवी (59) पत्नी स्व केशवदत्त पाण्डे गोशाला जानवरों को चारा देकर घर के भीतर लौट रही थी। इसी बीच सीढ़ियों पर माया देवी पर घात लगाए तेंदुए ने हमला कर दिया। मां की चीख पुाकर सुनकर बेटे सुरेश और हरीश घर से बाहर निकले।

हिम्मत दिखाकर तेंदुए से भिड़ गए और उनका शोर सुनकर अन्य ग्रामीण भी मौके पर पहुंच गए। ग्रामीणों के हो हाल्ला मचाने पर तेंदुआ भाग गया। तंेदुए ने महिला के गले और शरीर पर घाव कर दिए। ग्रमीणों ने रात में ही महिला को इलाज के लिए पिथौरागढ़ जिला अस्पताल में भर्ती कराया।


दूसरी घटना रसौ पट्टा क्षेत्र के खोली गांव की है। बृहस्पतिवार को खोली गांव निवासी जमुना दत्त भट्ट की पत्नी सरला देवी 68 खेत काम कर रही थी उन पर तेंदुए ने हमला कर दिया। देर शाम तक वह घर नहीं पहुंची तो परिजनों की उनकी तलाश की। महिला का क्षत विक्षत शव जंगल में मिला।



Leave a Reply

Your email address will not be published.