न्यूज़

हत्या के बाद दहशत, नशा मुक्ति केंद्र से सात मरीज भागे, पुलिस के दबाव में अन्य आठ मरीजों को भी घर भेजा

Report ring desk

हल्द्वानी। हरिपुर नायक कमलुवागांजा रोड स्थित आदर्श जीवन नशा मुक्ति केंद्र  से शुक्रवार की रात 12 बजे चाबी छीनकर सात मरीज फरार हो गए।  पुलिस के दबाव बनाने पर संचालक ने शेष आठ मरीजों को उनके घर भेजकर केंद्र खाली कर दिया है।

आदर्श जीवन नशा मुक्ति केंद्र में पिथौरागढ़ देवलथल के मरीज प्रवीन की हत्या के बाद अन्य मरीज डरे हुए थे।  हालांकि इस मामले में पुलिस ने हत्यारोपी पांच लोगों को जेल भेज दिया है लेकिन नशामुक्ति केंद्र में दहशत बरकरार थी।

शुक्रवार की देर रात केंद्र में भर्ती सात मरीजों ने सो रहे संचालक राजीव जोशी को जगाकर गेट की चाभी मांगी। चाभी देने से इनकार करने पर उन्होंने संचालक का मोबाइल फोन, टॉर्च और चाबी छीन ली।
इसके बाद गेट खोलकर भाग गए।  केंद्र संचालक ने दूसरे दिन घटना की जानकारी मुखानी पुलिस को दी। इस पर पुलिस ने मौका मुआयना कर अन्य आठ मरीजों को भी उनके घर छोड़ने की सलाह दी। इस पर परिजनों को बुलवाकर सभी मरीजों को उनके सुपुर्द कर दिया गया। शुक्रवार की रात जो मरीज भागे थे वे केंद्र के कर्मचारियों की प्रताड़ना से तंग आकर भागे थे। इनमें दो युवक दमुवाढूंगा निवासी, एक मुखानी निवासी, एक रामनगर निवासी और दो बेलबाबा मंदिर के पास रहने वाले हैं।



Leave a Reply

Your email address will not be published.