न्यूज़

पर्वतीय शैली से होगा पर्यटनस्थलों का सुंदरीकरण

Report ring desk

नैनीताल। नैनीताल जिले में पर्यटनस्थलों का सुंदरीकरण अब पर्वतीय शैली में किया जाएगा। ईंट के बजाय पत्थरों का उपयोग किया जाएगा। पहाड़ के मकानों की शैली में नक्काशीदार सेल्फी प्वाइंट बनाए जाएंगे जबकि नैनीताल के बजाय आसपास के इलाकों में पर्यटन सुविधाओं का विस्तार किया जाएगा। एस्ट्रो टूरिज्म को भी प्रोत्साहित किया जाएगा। मुक्तेश्वर के लिए नए टै्रफिक प्लान पर काम होगा।

बुधवार को नवागत डीएम धीराज सिंह गर्ब्याल ने कलेक्ट्रेट में आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में जिले के समग्र विकास के लिए विजन पेश किया। उन्होंने बताया कि जिले में अभिनव प्रयोगों पर आधारित वे विकास योजनाएं प्रोत्साहित की जाएंगी, जो रोजगारपरक हों। रामनगर में भी सिंचाई विभाग के डैम को पर्यटन की दृष्टि से विकसित किया जाएगा। ओखलकांडा जैसे दूरस्थ इलाकों में पर्यटन सुविधाओं का विस्तार प्राथमिकता रहेगी। इस मौके पर सीडीओ नरेंद्र सिंह भंडारी, उपनिदेशक सूचना योगेश मिश्रा मौजूद थे।

डीएम गर्ब्याल ने कहा कि हल्द्वानी में अक्सर लगने वाले जाम का स्थायी समाधान फ्लाईओवर से ही मुमकिन है। उन्होंने बताया कि मंगलपड़ाव में एक किलोमीटर लंबाई का और मुखानी में भी फ्लाईओवर बनाने का प्लान बना लिया है। शहरी विकास सचिव शैलेश बगौली से भी वार्ता हो चुकी है। मुख्यमंत्री के निर्देशानुसार फ्लाईओवर प्रोजेक्ट का क्रियान्वयन किया जाएगा। इसके अलावा अंडरग्राउंड पार्किंग बनाई जाएंगी।



Leave a Reply

Your email address will not be published.