न्यूज़

दुर्घटनाओं का सबब बना केसिंगा-जोराडबरा मार्ग

By Suresh Agrawal, Kesinga, Odisha

सत्ता में न रहते हुये भी वर्तमान में कांग्रेसी कार्यकर्ता स्थानीय समस्याओं को दूर करने अधिक ध्यान देते प्रतीत होते हैं। विशेषकर, केसिंगा नगर कांग्रेस अध्यक्ष सुरेश राव के नेतृत्व में कांग्रेसी सदस्य अधिक सक्रियता प्रदर्शित कर रहे हैं। फिर बात चाहे किसानों की हो, पेयजल अथवा चिकित्सा की, कांग्रेस कार्यकर्ता विगत कुछ समय से अपना अहम क़िरदार निभाते नज़र आ रहे हैं। सम्प्रति नगर कांग्रेस अध्यक्ष सुरेश राव की अध्यक्षता में पार्टी का ध्यान दुर्घटनाओं का सबब बने केसिंगा-जोराडबरा मार्ग की जर्जर हालत पर केन्द्रित है, जो कि केसिंगा एवं मदनपुर-रामपुर प्रखण्डों को जोड़ने वाला एक अहम मार्ग है एवं जिसकी हालत इतनी बिगड़ चुकी है कि वहां आये दिन अपना संतुलन खो वाहन दुर्घटना का शिकार हो रहे हैं।

ख़ास कर, केसिंगा दमकल केन्द्र से लेकर लइतरा तेंदूपत्ता कार्यालय तक के रास्ते में इस कदर गड्ढ़े बन गये हैं कि उस पर पैदल चलना भी मुश्किल हो गया है। ज्ञातव्य है कि केसिंगा एवं मदनपुर-रामपुर प्रखण्डों को जोड़ने वाला यह मार्ग इसलिये भी अहम हो जाता है कि यह मार्ग पर पड़ने वाले बड़े ग्रामीण क्षेत्र को सबसे कम दूरी के हिसाब से जोड़ता है एवं दोनों प्रखण्डों के लोग अधिक से अधिक संख्या में चिकित्सा, स्कूल-कॉलेज एवं व्यापार-व्यवसाय आदि के लिये इसका इस्तेमाल करते हैं।

मामले पर संज्ञान लेते हुये बुधवार को सुरेश राव की अगुवाई में कांग्रेस के एक उच्चस्तरीय प्रतिनिधिमण्डल, जिसमें ज़िला युंका अध्यक्ष साउल मंगराज, भवानीपटना नगर कांग्रेस अध्यक्ष नीमांचल नायक, पूर्व ज़िला युंका अध्यक्ष त्रिलोचन पाणिग्राही, ज़िला कांग्रेस सचिव सुनील नायक तथा प्रदेश कांग्रेस सचिव बुबुन पटनायक आदि प्रमुख सदस्य शामिल थे, ने कार्यकारी अभियंता लोकनिर्माण विभाग, भवानीपटना से मिलकर उन्हें इस आशय का ज्ञापन सौंपा। इसके साथ ही यह चेतावनी भी दी कि यदि एक सप्ताह के भीतर मार्ग को दुरुस्त नहीं किया गया, तो आन्दोलनात्मक रुख अपनाते हुये कांग्रेस द्वारा रास्ता-रोको किया जायेगा एवं उसके बाद उत्पन्न होने वाली किसी भी स्थिति के लिये विभाग ही ज़िम्मेदार होगा।



Leave a Reply

Your email address will not be published.