न्यूज़

कनालीछीना में आतंक का पर्याय बना गुलदार ढेर

Report Ring Desk

पिथौरागढ़। कनालीछीना क्षेत्र में आतंक का पर्याय बने आदमखोर गुलदार को मुरादाबाद से आए शिकारी ने ढेर कर दिया। गुलदार ने पिछले दस दिनों में दो महिलाओं को मारा था। आदमखोर को मारने के बाद लोगों ने राहत की सांस ली है।

18 फरवरी को विकासखंड कनालीछीना के कापड़ी गांव में गुलदार ने कलावती देवी को अपना शिकार बनाया था। इसके बाद वन विभाग ने गुलदार को नरभक्षी घोषित कर शिकारी तैनात करने का निर्णय लिया। स्वीकृति मिलने पर 21 फरवरी को मुरादाबाद से पहुंचे शिकारी राजीव सुलोमन व उनके सहायक को क्षेत्र में तैनात किया गया। शिकारी वन विभाग की टीम के साथ नरभक्षी का पता लगाने में जुटे थे। इस बीच 28 फरवरी को गुलदार ने कापड़ी गांव से लगे सुरौली में तुलसी देवी को भी अपना शिकार बना डाला।

सोमवार रात नरभक्षी सुरौली गांव में दोबारा शिकार के लिए आया था। इस दौरान शिकारी सुलोमन ने उसे गोली मारकर ढेर कर दिया। वन क्षेत्राधिकारी पूरन देऊपा ने बताया कि मारा गया गुलदार नर है और उसके हाथ और पैर में चोट के निशान थे। जिस कारण वह नरभक्षी हो गया था। जिसके आधार पर ही उसके नरभक्षी होने की पुष्टि हुई।



Leave a Reply

Your email address will not be published.