न्यूज़

कोरोना की बेतहाशा रफ़्तार बनी चिन्ता का सबब

By Suresh Agrawal, Kesinga, Odisha

शुक्रवार को कोरोना के 48 नये मामले आने के बाद कालाहाण्डी में कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 770 हो गयी है। ज्यों-ज्यों टेस्टिंग सुविधाओं का विस्तार हो रहा है, कालाहाण्डी में कोरोना संक्रमितों की तादाद भी अनपेक्षित रूप से बढ़ कर सामने आ रही है। लगता है कि अब तो ज़िले का कोई भी कोना कोरोना से अछूता नहीं रहा है। संक्रमण गति को मंथर करने प्रशासन द्वारा भी काफी सक्रियता प्रदर्शित की जा रही है, परन्तु इसके बावज़ूद अब भी ऐसे लोगों की कमी नहीं है, जो कि कोरोना को गंभीरता से नहीं लेते और अनावश्यक मटरगश्ती करना अपनी शान समझते हैं। इतना ही नहीं, कंटेन्मेंट घोषित क्षेत्र में भी लोगों को आते-जाते देखा जा सकता है। ऐसे में लोगों में जागरूकता के साथ-साथ प्रशासन को भी और चौकस होने की ज़रूरत है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार 10-11 अगस्त को दो दिन के केसिंगा शटडाउन के दौरान घर-घर की गयी स्क्रीनिंग के दौरान यहाँ कुल 15 कोरोना पॉजिटिव पाये जाने के बाद 13 अगस्त को सात और संक्रमितों की पहचान कर उन्हें कोविड अस्पताल अथवा होम कवॉरंटीन में रखा गया है। इसी प्रकार 12-13 अगस्त को ज़िले के जूनागढ़ नगरपालिका क्षेत्र को शटडाउन किये जाने पर वहाँ से भी कुल 52 पॉजिटिव पाये जाने का समाचार है।

आलम यह है कि ज़िला मुख्यालय भवानीपटना स्थित सौ बिस्तरों वाले कोविड अस्पताल की क्षमता भी कब की पूरी हो चुकी, परिणामस्वरूप प्रशासन नये संक्रमितों को अस्थायी कोविड केयर अथवा कोविड हेल्थ केन्द्रों में रखने पर विवश है। वर्तमान हालत के मद्देनज़र केसिंगा में 14 अगस्त तक केवल किराना, दूध, फल-सब्जियों जैसी अत्यावश्यक सामग्रियों की दुकानें खोलने की ही अनुमति थी, परन्तु 15 अगस्त से तमाम प्रकार की चीज़ों के साथ बाज़ार खुल जायेगा। वैसे भी पश्चिमी ओड़िशा का गण-पर्व नुआखाई केसिंगा अंचल में 23 अगस्त को मनाये जाने के कारण बाज़ार खुलने पर लोगों को सुविधा होगी।



Leave a Reply

Your email address will not be published.