देश दुनिया न्यूज़

China के Villages में शुरू हुई यह नीति, पढ़िए पूरी स्टोरी…

चीन के ग्रामीण क्षेत्रों में लागू हुई शासन प्रणाली, विभिन्न क्षेत्रों में हो रही है शुरू

Report Ring News

चीन में पिछले तीन-चार दशकों में जो विकास किया है, उसे देखकर हर कोई हैरान हो जाता है। चीन का यह विकास शहरों में खूब दिखता है, लेकिन हाल के वर्षों में गांवों की स्थिति सुधारने पर भी ध्यान दिया गया है। विशेषकर ग्रामीण क्षेत्रों से पलायन रोकने के लिए स्थानीय सरकारें विभिन्न योजनाएं चला रही हैं। साथ ही गरीबी और अमीरी की खाई को पाटने की कोशिशें भी हो रही हैं। इसके अलावा ग्रामीण क्षेत्रों में शासन नीति प्रणाली भी स्थापित की जा रही है। बताया जाता है कि इसके तहत दूर-दराज के इलाकों में रहने वाले नागरिकों के बीच सांस्कृतिक सभ्यता के निर्माण पर ज़ोर दिया जाएगा। वहीं पारिवारिक मूल्यों पर ध्यान देने की दिशा में भी लोगों को प्रोत्साहित किया जाएगा। चीन का दावा है कि इसके साथ ही स्थानीय स्तर पर सामने आने वाली समस्याओं के समाधान के लिए भी यह व्यवस्था कारगर होगी। लेकिन इस संबंध में विस्तृत जानकारी सामने आने का इंतजार है।

देश के विभिन्न ग्रामीण क्षेत्रों की स्थिति और परेशानियों के मुताबिक इसे लागू किया जाएगा। उदाहरण के लिए पश्चिमी चीन के निंगश्या में गांव वालों को गरीबी उन्मूलन व रीति-रिवाज सुधार को लेकर मूल्यांकन कर अंक दिए जाते हैं। ग्रामीणों को इन अंकों के आधार पर निशुल्क रोज़मर्रा की जरूरत की चीज़ें हासिल हो सकती हैं। जबकि दक्षिण चीन के हूनान प्रांत के गांवों में रहने वालों को कचरा वर्गीकरण करने पर विशेष इनाम दिया जाता है। कचरा वर्गीकरण के तहत लोगों से ठोस, गीले व रिसाइकल या नॉन रिसाइकल कचरे को अलग-अलग रखने के लिए कहा जाता है।

इसके अलावा चीन के कई गांवों में किसानों के दैनिक व्यवहार का मूल्यांकन भी किया जाने लगा है। इसके आधार पर किसानों में सभ्यता, अच्छी पारिवारिक शैली और लोक रीति-रिवाजों को बढ़ावा दिया जा रहा है। चीन के संबंधित विभाग का कहना है कि इस तरह की व्यवस्था से ग्रामीण क्षेत्रों की शासन दक्षता में सुधार होगा।

गौरतलब है कि चीन में पहले से यह व्यवस्था चली आ रही है, लेकिन अब इसे समग्र रूप में स्थापित किया जा रहा है।

साभार-चाइना मीडिया ग्रुप

Photo Courtesy- Google



Leave a Reply

Your email address will not be published.