Uttarakhand DIPR
captain Devesh

खटीमा के कैप्टन देवेश को शौर्य पुरस्कार, राष्ट्रपति ने किया सम्मानित

Report ring desk

खटीमा। झारखंड के देवधर में रोपवे के दुर्घटनाग्रस्त होने पर ट्रॉली में फंसे पर्यटकों की जान बचाने वाले कैप्टन देवेश जोशी को शौर्य पुरस्कार से सम्मानित किया गया है। स्वतंत्रता दिवस पर राष्ट्रपति ने उन्हें शौर्य पुरस्कार से सम्मानित किया है।

 

मूलरूप से जिला पिथौरागढ़ के गणाई गंगोली निवासी कैप्टन देवेश ने झारखंड के देवधर में रोपवे में फंसे 21 पर्यटकों की जान बचाई थी। वह टीम का नेतृत्व करते ट्रॉलियों तक पहुंचे थे। इसे ऑपरेशन त्रिकूट नाम दिया गया था। अदम्य साहस, परिश्रम, दृढ़ संकल्प के लिए राष्ट्रपति ने स्वतंत्रता दिवस पर उन्हें शौर्य पुरस्कार से सम्मानित किया है।

देवघर से 22 किमी दूर त्रिकूट पहाड़ पर 11 अप्रैल को हादसा हुआ था। रामनवमी के अवसर पर वहां बड़ी संख्या में पर्यटक पहुंचे थे। वे रोपवे पर सवार थे। तार टूटने से एक ट्रॉली के गिरने से दो महिलाओं की जान चली गई थी। इस हादसे में 12 से अधिक लोग जख्मी हुए थे। अलग.अलग ट्रॉलियों में 50 से अधिक लोग फंस गए थे।

Follow us on Google News Follow us on WhatsApp Channel

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top