न्यूज़

सीमा सील, फिर भी हो रही जमकर तस्करी

झनकईया पुलिस, एसएसबी ने चायनीज मटर और रसायनिक खाद पकड़ी

By Naveen Joshi 

खटीमा। कोरोना संक्रमणकाल में भारत-नेपाल की अंतरराष्ट्रीय सीमा पिछले छह माह से अधिक समय से सील है, इसके बावजूद नेपाल से तस्करी जोरों पर है। गुरुवार को झनकइया पुलिस और एसएसबी मेलाघाट की संयुक्त टीम ने मेलाघाट क्षेत्र में एक मकान के बाहर से नेपाल से तस्करी कर लाई गई चायनीज मटर और रसायनिक खाद बरामद की है। टीम ने बरामद माल को कस्टम विभाग के सुपुर्द कर दिया है। अलबत्ता तस्कर मौके से फरार हो गए।

मेलाघाट क्षेत्र से बरामद सामान के साथ पुलिस और एसएसबी की टीम।

नेपाल से भारत को बड़ी मात्रा में तस्करी होती है। हालांकि सीमा पर एसएसबी के अलावा सीमा क्षेत्र में बनी चौकियों में पुलिस भी तैनात रहती है। इसके बावजूद तस्कर चोर रास्तों से नेपाल से खुकरी सिगरेट, कपड़े, चायनीज आइटम, रसायनिक खाद आदि लाकर भारत में ऊंचे दामों पर बेचते हैं। वहीं, भारत से दवाइयां, इलैक्ट्रानिक पाट्र्स आदि नेपाल में बेचकर वारे न्यारे करते हैं। हालांकि, समय-समय पर एसएसबी और पुलिस की टीमें तस्कर को दबोचने में कामयाब होती है, बावजूद इसके तस्कर मौका पाकर तस्करी को अंजाम देते रहते हैं।

गुरुवार को झनकइया पुलिस और एसएसबी मेलाघाट की टीम ने मेलाघाट क्षेत्र में एक मकान के बाहर रखी तस्करी की 9 कट्टे चायनीज मटर और 9 कट्टे रसायनिक खाद बरामद की। बरामद माल के बाबत पूछताछ करने पर तस्कर का पता नहीं चला सका। टीम ने माल को कब्जे में लेकर कस्टम विभाग को सौंप दिया। टीम में एसआई ललित पांडे, एचसीपी प्रताप सिंह मेहरा, कांस्टेबल पूरन सैनी, संजय मुरारी, शीला देवी और एसएसबी कंपनी कमांडर मनोहर लाल, उपनिरीक्षक लोकेश कुमार, हेड कांस्टेबल दिनेश सिंह रावत आदि शामिल थे।



Leave a Reply

Your email address will not be published.