न्यूज़

मैग्नेटो ने बाजार में उतारा नया एयर सैनिटाइजेशन प्रोडक्ट

Report ring Desk

नई दिल्ली। भारत के प्रमुख एयर सैनिटाईजेशन टेक्नोलॉजी सॉल्यूशन स्टार्ट अप मैग्नेटो क्लीनटेक ने कोविड से रक्षा करने के लिए एक बहुत ही यूनीक यूवीजीआई- बेस्ड सॉल्यूशन लांच किया है। इस प्रोडक्ट को देश की प्रमुख वैज्ञानिक संस्था CSIR-CSIO ने प्रमाणित किया गया है। यूवी- सी बेस्ड सिस्टम से मैग्नेटो ने एक नया एयर सैनिटाइजेशन प्रोडक्ट बाज़ार में उतारा है जिसे स्प्लिट एसीए कैसेट एसी से एएचयू और एफएचयू तक एयर कंडीशनिंग सिस्टम के साथ फिट किया जा सकता है।

कोरोना वायरस के हवा में फैलने की प्रकृति और इनडोर स्थानों में इससे होने वाले खतरे को देखते हुए यह प्रोडक्ट अभी तक लेटेस्ट प्रोडक्ट डिजाइन और नई तकनीकों का तेजी से व्यावसायीकरण करने की क्षमता और रिसर्च तथा डेवलपमेंट की जानकारियों को कंज्यूमर प्रोडक्ट में भुनाने की मैग्नेटो की काबिलियत का एक और प्रमाण है। हालांकि यूवीजीआई तकनीक को पारंपरिक रूप से मानव त्वचा के लिए हानिकारक माना गया है, जिससे कई वर्षों तक इसका उपयोग बहुत कम हुआ है, लेकिन मैग्नेटो कंपनी ने पूरी तरह से नॉन-कॉन्टैक्ट, नॉन-केमिकल प्रोडक्ट बना करके अल्ट्रा वायलेट से होने वाले ख़तरे को कम करके इन सुरक्षा चिंताओं को कम करने की कोशिश की है।

मैग्नेटो क्लीनटेक के सीईओ हिमांशु अग्रवाल ने कहा कि हमने हमेशा स्थानीय अविष्कारों और इंटरप्राइजेज से विश्व स्तरीय एयर सैनिटाईजेशन सॉल्यूशन बनाने पर गर्व महसूस किया है। ऐसे समय में जब भारत अभी भी लगातार वायु प्रदूषण के साथ-साथ कोविड -19 के दंश को झेल रहा है, तो इन चीज़ों का आम लोगों के स्वास्थ्य और सांस संबंधी सिस्टम पर गंभीर नुकसान होता हैं, इसी के तहत इस प्रोडक्ट को लांच करना हमारे लिए बहुत महत्वपूर्ण रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *