न्यूज़

धारचूला के जुम्मा गांव में बादल फटने से मची तबाही, सात लोग लापता, दो बच्चों के मिले शव

Report ring Desk

पिथौरागढ़। उत्तराखंड के पिथौरागढ़ जिला स्थित तहसील धारचूला के जुम्मा गांव में रविवार रात बादल फटने से भारी तबाही मच गई है। धारचूला के जुम्मा गांव में जामुनी तोक में लगभग पांच और सिरौउड्यार तोक में दो आवासीय मकान क्षतिग्रस्त होने से करीब सात लोग लापता बताए जा रहे हैं जबकि दो बच्चों के शव बरामद किए जा चुके हैं।

जुम्मा गांव का संपर्क कट गया है, सबसे अधिक तबाही इसी गांव में मची है। गांव के नौ लोग लापता बताए जा रहे हैं जबकि कई मकान क्षतिग्रस्त हो गए हैं। रविवार रात को ही ग्रामीणों ने गांव से भागकर अपनी जान बचाई। एनडीआरएफ, एसडीआरएफ, पुलिस, राजस्व दल बचाव कार्य के लिए पहुंचने लगे हैं। हाइवे सहित सभी पैदल मार्ग बंद होने से गांव तक पहुंचना मुश्किल हो रहा है।

वहीं नेपाल के सिरबगड़ में बादल फटने से आए मलबे से काली नदी का प्रवाह रोक दिया जिसके चलते धौलीगंगा जल विद्युत परियोजना के प्रशासनिक कार्यालय और कॉलोनी तक काली नदी का पानी जमा हो गया। कॉलोनी में रहने वाले अधिकारियों और कर्मचारियों ने दहशत के साए में तीन मंजिला भवन की छत पर रात गुजारी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *