देश दुनिया न्यूज़

इंडिया को मिलेगा वर्ल्ड बैंक से अब तक का सबसे बड़ा फंड

विश्व बैंक कोरोना वायरस की आपात स्वास्थ्य चुनौती से निपटने के लिए भारत को 1 अरब डॉलर की राशि देने को तैयार हो गया है। भारत के अलावा पाकिस्तान सहित अन्य विकासशील देशों को भी वर्ल्ड बैंक की ओर से भारी-भरकम फंड मिलने जा रहा है।
Report Ring Desk
कोरोना वायरस ने दुनिया भर में कहर मचा रखा है। अब तक 50 हज़ार लोगों की जान जा चुकी है, जबकि लाखों लोग इस जानलेवा वायरस से संक्रमित हो चुके हैं। विश्व के कुछ चुनिंदा देश ही इससे अछूते हैं, लेकिन वे भी आने वाले दिनों में प्रभावित हो सकते हैं। इस वैश्विक महामारी से निपटने के लिए विश्व बैंक, विश्व स्वास्थ्य संगठन आदि पुरजोर कोशिश कर रहे हैं। अब इसी कड़ी में वर्ल्ड बैंक ने भारत समेत कुछ विकासशील देशों को तत्काल आर्थिक मदद देने की घोषणा की है। इस राहत पैकेज में भारत को सबसे अधिक एक अरब डॉलर की राशि मिलेगी। वर्ल्ड बैंक के कार्यकारी निदेशक ने इस बारे में प्रस्ताव पर सहमति जताई है।
बताया जाता है कि विश्व बैंक ने महासंकट की इस घड़ी में पहले चरण में 25 देशों को विशेष आपात सहायता करने की घोषणा की है। जबकि दूसरे चरण में 40 अन्य देशों को आर्थिक मदद दी जाएगी। जिन देशों को पहले चरण में मदद दी जानी है, उनमें दक्षिण एशिया,पूर्वी एशिया व पैसिफिक, यूरोप, सेंट्रल एशिया, मिडिल-ईस्ट और उत्तरी अफ्रीका के देश शामिल हैं।
गौरतलब है कि कोविड-19 महामारी से समूची दुनिया में संकट खड़ा हो गया है। कई देश मेडिकल सामग्री की कमी से जूझ रहे हैं। भारत में भी कोरोना के तेज़ी से बढ़ते मामलों को देखते हुए कमी महसूस की जा रही है। लेकिन अब भारत को वर्ल्ड बैंक से 1 अरब डॉलर की बड़ी राशि मिलने वाली है, जिससे इस आपदा से लड़ने में बड़ी सहायता मिलेगी।
 विश्व बैंक के अनुसार इस आपात आर्थिक मदद से कोरोना वायरस की जांच करने, कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग, प्रयोगशाला में जांच करने, आवश्यक मेडिकल उपकरण खरीदने और मरीजों को रखने के लिए नए आइसोलेशन केंद्र बनाने में आसानी होगी। भारत के साथ-साथ पड़ोसी देश पाकिस्तान को भी 20 करोड़ डॉलर की आपात आर्थिक मदद दिए जाने का ऐलान किया गया है। पाकिस्तान में भी कोरोना वायरस का संक्रमण तेज़ी से फैल रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *