न्यूज़

समधन के व्यवहार से आहत टेलर ने जहर खाकर जान दी

Report ring desk

हल्द्वानी। एक टेलर ने अपनी समधन से विवाद के चलते जहर खाकर जान दे दी। टेलर का शव मुक्त विश्वविद्यायल के पास जंगल में मिला। शव के पास सुसाइट नोट और एक जहर की शीशी पड़ी थी। सुसाइट नोट में मौत के लिए टेलर ने समधन से विवाद को जिम्मेदार ठहराया है।

हरिपुर तुलाराम गोरापड़ाव निवासी प्रकाश चंद्र( 52) 24 नंवबर को अपने घर से कहीं चले गए थे। देर रात तक वह घर नहीं लौटे तो परिजनों ने उसकी तलाश की मगर उनका पता नहीं चल पाया।

25 नंवबर की दोपहर मंडी चैकी पुलिस को मुक्त विवि के पास शव मिलने की सूचना मिली तो पुलिस ने मौके पर पहुंचकर छानबीन शुरू की। शव की शिनाख्त प्रकाश चंद्र के रूप में हुई।

पुलिस को मौके से जहर की शीशी और सुसाइड नोट भी बरामद हुआ। जिसमें प्रकाश चंद्र ने अपनी मौत के लिए समधन को जिम्मेदार ठहराया था। पुलिस ने परिजनों से पूछताछ की तो पता चला कि उनके बेटे की सास 24 नवंबर को अपनी बेटी को मायके ले जाने के लिए आयी थी।

प्रकाश ने बहू को मायके जाने से मना किया तो समधन ने उससे भला बुरा कह दिया। इसके बाद समधन अपनी बेटी को शांतिपुरी ले गयी। समधन के व्यवहार से प्रकाश चंद्र आहत हो गए। परिजनों का आरोप है कि इसी के चलते उन्होंने यह कदम उठाया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *