अपनी बात रोचक

यादेंःट्रेन का वो शानदार सफर

4 जून 2019 को चेन्नई यात्रा के दौरान ट्रेन के सफर का अनुभव कविता के रूप में है पेश…
 

By Khajan Pandey, Delhi

कितना अच्छा और सुंदर होता है

ट्रेन का सफर।

आप किसी रथ में बैठे

पूरा करते सफर

एक गंतव्य से दूसरे गंतव्य का ।

मेरी आँखें कैद कर लेना चाहती हैं

मनमोहक और आकर्षक दृश्य

सरपट भागते रास्ते में

कुछ अच्छे दृश्य

पीछे छूट गए हैं

हमेशा के लिए।

मेरे बोगी के लोग

बच्चे, जवान और बूढ़े

आपसी वार्तालाप जारी है।

चुनाव की चर्चा

मोदी की चर्चा

राहुल की चर्चा

पूरी चर्चा राजनैतिक है

मानो राजनीति से इतर

जीवन कुछ भी नहीं।

ज्यादातर के पास फ़ोन हैं

वो जिसे कहते हैं ना

स्मार्ट, स्मार्ट फ़ोन।

बच्चे और युवा व्यस्त हैं

अपने-अपने फ़ोन में

फेसबुक, व्हाट्सएप, यू-ट्यूब, टिक-टॉक

दर्जनों वेबसाइट के ज़रिए

बिक रहा है सामान

ग़ुलामी और मौत का

कुछ और भी लोग हैं

जो बेच रहे हैं सामान

एक बोगी से दूसरे बोगी

आवाज लगाते-चिल्लाते

ढो रहे हैं

मुसाफ़िर के भूख का सामान।

By- Khajan Pandey, Environics, Gurugram

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *