न्यूज़ यूथ

उत्तराखंड में खेल नीति को मंजूरी, आठ वर्ष की आयु से ही प्रतिभाओं को तराशा जाएगा

Report ring desk 
देहरादून। पुष्कर सिंह धामी मंत्रिमंडल ने उत्तराखंड की बहुप्रतीक्षित खेल नीति पर मंगलवार को मुहर लगा दी। आठ वर्ष की आयु से ही प्रतिभाओं को पहचान कर उन्हें तराशा जाएगा। उभरते हुए खिलाड़ि‍यों और बेहतरीन प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ि‍यों को छात्रवृत्ति मिलेगी। उच्च स्तर की प्रतियोगिताओं में पदक विजेताओं को राज्य की समूह.ख एवं समूह.ग सेवाओं में आउट आफ टर्न नियुक्ति का तोहफा मिलेगा।

धामी मंत्रिमंडल की सचिवालय में मंगलवार देर शाम तक चली मंत्रिमंडल की बैठक में तकरीबन 30 बिंदुओं पर निर्णय किए गए। मंत्रिमंडल ने खेल प्रतिभाओं के विकास के लिए नीति के साथ ही भोजनमाताओं का मानदेय एक हजार रुपये बढ़ाने का निर्णय लिया। अब राज्य में 25 हजार से ज्यादा भोजनमाताओं को प्रतिमाह तीन हजार रुपये मानदेय मिलेगा। वहीं पीआरडी जवानों के दैनिक मानदेय में 70 रुपये की वृद्धि की गई। उन्हें 570 रुपये दैनिक मिलेंगे। एक माह में यह वृद्धि 2100 रुपये की गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *