न्यूज़

ओड़िशा को विशेष राज्य का दर्ज़ा दिलाने के लिए सत्यव्रत दास चौदह माह से पद यात्रा पर

By Suresh Agrawal, Kesinga, Odisha

ओड़िशा को विशेष राज्य का दर्ज़ा दिलाने की माँग को लेकर गत चौदह माह से प्रदेश की राज्यव्यापी पद-यात्रा पर निकले ओड़िशा जन सचेतनता मंच के सत्यव्रत दास का रविवार को यहाँ पहुंचने पर स्थानीय युवा समाज द्वारा उनका पुरज़ोर स्वागत किया गया एवं बाद में इसी आशय का ज्ञापन स्थानीय विकासखंड अधिकारी के मार्फ़त राष्ट्रपति को प्रेषित करने उनके साथ प्रखण्ड कार्यालय भी गये।

इस मौके पर केसिंगा अधिवक्ता संघ अध्यक्ष देवेन्द्र भुजबल, केसिंगा नगर कांग्रेस अध्यक्ष सुरेश राव, कालाहाण्डी ज़िला अनुसूचित जाति प्रकोष्ठ अध्यक्ष सुरेश महानंद, अनवर हुसैन तथा दया सुनानी आदि प्रमुख व्यक्ति उनके साथ थे। एक भेंट में सत्यव्रत दास ने बतलाया कि उन्होंने यह पद-यात्रा 10 जुलाई 2019 को ओड़िशा के जगतसिंहपुर से शुरू की थी एवं प्रदेश के कुल 314 प्रखण्डों में अपना संदेश फ़ैलाने के बाद ही वह इस पर विराम लगाएंगे। उनका मक़सद प्रदेश वासियों को अपने अधिकारों के प्रति जागरूक करना एवं प्रदेश की ज्वलंत समस्याओं की ओर केन्द्र सरकार का ध्यानाकृष्ट करना है।

क्योंकि राज्य को विशेष दर्ज़ा मिलने पर ही उसका समग्र एवं समुचित विकास सम्भव है। उन्होंने ओड़िशा-आंध्रप्रदेश सीमान्त स्थित पोलावरम परियोजना के ख़तरों का ख़ास तौर पर विरोध करते हुये उसे तुरन्त बन्द करने की मांग उठायी, क्योंकि उक्त प्रकल्प के बन जाने पर ओड़िशा के मलकानगिरी क्षेत्र में जल-प्रलय जैसी स्थिति उत्पन्न हो सकती है एवं जिससे वहां के आदिवासियों को काफी नुक़सान होने की संभावना है। सत्यव्रत को सोमवार प्रातः यहां से रुख़सत किया गया, तो अन्य लोगों के अलावा वहाँ पूर्व नगरपाल रमाकांत गौड़, गोविन्द बंछोर तथा बसन्त नायक जैसे प्रमुख व्यक्ति उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *