Internet becomes game changer in lockdown
यूथ

अल्मोड़ा जिले में आनलाइन क्लास: बच्चों को पढ़ाने के लिए ‘घर’ पहुंच रहे मास्साब

भले ही स्कूल कालेज बंद हों मगर बच्चों की पढ़ाई आनलाइन चल रही है। शिक्षक अपने विषयों से संबंधित वीडियो तैयार कर छा़त्रों के पास हर रोज भेज रहे हैं। कोरोना काल में टक्नोलाजी का कमाल ही कहा जा सकता है वीडियो के माध्यम से मास्साब बच्चों को पढ़ाने घर घर पहुंच रहे हैं। हां परेशानी उन बच्चों के लिए है जिनके परिजनों के पास एंड्राइड फोन नहीं है।

Report ring desk

अल्मोड़ा। कोरोना वायरस की मार हर क्षेत्र में पड़ रही है। देश में अधिकतर उद्योग-धंधे, प्रतिष्ठान, व्यापारिक प्रतिष्ठान, यातायात अब भी बंद पड़े हैं। कोरोना की मार शिक्षा पर भी पड़ी है। लॉकडाउन के पहले से ही शिक्षण संस्थान बंद पड़े हुए हैं, जिस वजह से अब तक नया सत्र 2020-21 शुरू भी नहीं हो पाया है। ऐसे में शिक्षा को पटरी पर लाने और बच्चों को शिक्षा से जोड़े रखने के लिए देश भर के शिक्षण संस्थानों ने ऑनलाइन क्लासेस का सहारा लिया है।

online classes

अल्मोड़ा जिले में भी दूर दराज के बच्चों को शिक्षा से जोड़े रखने और उनके हर रोज के पठन पाठन को व्यवस्थित करने के लिए 23 अपै्रल से ऑनलाइन क्लास की व्यवस्था की गई है। जिले के मुख्य शिक्षा अधिकारी और कुछ प्रधानाचार्यों के सहयोग से अध्यापकों द्वारा बनाए गए वीडियो को संकलित किया जा रहा है। इन वीडियो और पठन पाठन की अन्य सामग्री को अध्यापकों द्वारा अपने अपने विद्यालय के बच्चों को वाट्सअप ग्र्रुप के माध्यम से भेजा जा रहा है। बच्चों को इन वीडियो में हर विषय की सामग्री पढ़ने को मिल पा रही है। प्राथमिक से लेकर माध्यमिक स्तर के ऐसे कई वाट्सअप गु्रप बनाए गए हैं जो पर्वतीय क्षेत्र के बच्चों के लिए काफी मददगार हो रहे हैं।

online class

ऑनलाइन क्लास का फायदा उन सभी बच्चों को मिल पा रहा है जिनके पास एंड्राइड फोन और इंटरनेट की सुविधा है। लेकिन दूर दराज के बहुत से बच्चे अब भी ऑनलाइन पढ़ाई से वंचित हैं। ऐसे बच्चों को भी अध्यापकों द्वारा व्यक्तिगत फोन करके पढ़ाने की कोशिश की जा रही है, ताकि वे भी घर बैठे पढ़ सकें। ऐसे बच्चों को उन बच्चों की मदद लेने के लिए कहा जा रहा है जिनके पास एंड्राइड फोन हैं।

स्कूल एजुकेशन अल्मोड़ा में अपलोड हैं वीडियो

बच्चों के पठन पाठन से संबंधित वीडियो स्कूल एजुकेशन अल्मोड़ा के यूट्यूब साइड पर अपलोड किए गए हैं। अध्यापकों द्वारा तैयार किए इन वीडियो में एक से लेकर 12 वीं तक के सैकड़ों वीडियो का संकलन किया गया है, जिन्हें देखकर बच्चे अपनी पढ़ाई कर सकते हैं। ये यूट्यूब वीडियो भी बच्चों की पढ़ाई में मददगार हो रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *