न्यूज़

मोबाइल टावर लगाने के नाम पर लाखों की ठगी करने वाला गिरफ्तार

Report ring desk

चंपावत। पुलिस ने मोबाइल टावर लगाने के नाम पर लाखों की ठगी करने वाले अंतरर्राज्यीय गिरोह के एक ठग को हरिद्वार से गिरफ्तार किया है। आरोपी ने मोबाइल टावर के नाम पर चम्पावत के डडाबिष्ट निवासी व्यक्ति को शिकार बनाया था।

जनवरी 2021 में चम्पावत के डडाबिष्ट निवासी ज्योति नेगी पत्नी गोविन्द सिंह ने पुलिस को बताया कि कुछ समय पूर्व उसके भाई चेतन नेगी ने अखबार में मोबाइल टावर लगवाने का विज्ञापन देखा और मोबाइल नंबर 9630666912 में सम्पर्क किया तो मोबाइल उठाने वाले व्यक्ति ने अपना नाम प्रदीप कुमार शर्मा पुत्र राम प्रगट, निवासी आरा मशीन, पुराव, हलुवा बस्ती, उत्तरप्रदेश बताया।

उसने बताया कि मोबाइल टावर लगाने के लिए जमीन तलाश रहे हैं। जमीन उपलब्ध कराने पर 45 लाख दिए जाएंगे।

कहा कि विज्ञापन में सिक्योरिटी के लिए दिए गए खाता नंबर में दो हजार रुपये जमा कर दें। महिला ने पुलिस को बताया कि संबंधित व्यक्ति पर विश्वास कर उसके भाई ने खाते में दो हजार रुपये और अगल -अलग तारीख में अलग -अलग खाता नंबरों में कुल 5,35,850 रुपये यूपीआई के माध्यम से जमा किए। इसके बाद फोन उठाने वाले प्रदीप शर्मा ने मोबाइल टावर नहीं लगाया और न ही रुपये वापस लौटाए। पुलिस ने सूचना के आधार पर 23 जनवरी 2021 को कोतवाली चम्पावत में मुकदमा दर्ज किया था। चल्थी चौकी प्रभारी हेमंत कुमार को विवेचना सौंपी गई।

पुलिस टीम ने आरोपी की पहचान सोनू (23) पुत्र स्व. विनोद, निवासी ग्राम नारसनकला, थाना मंगलौर, जनपद हरिद्वार उत्तराखंड के रूप में की। जिसने अपना फर्जी नाम प्रदीप शर्मा बताकर धोखाधड़ी की थी। एसपी लोकेश्वर सिंह के निर्देश पर आरोपी की गिरफ्तारी के लिए चल्थी चौकी प्रभारी हेमंत कठैत के नेतृत्व में पुलिस टीम को हरिद्वार भेजा। पुलिस ने आरोपित को ग्राम नारसन कला, थाना मंगलौर से गिरफ्तार किया गया। बुधवार को उसे कोर्ट में पेश करने के बाद न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *