mother love
न्यूज़

मां की ममता के आगे कोरोना का डर भी छूमंतर

Report ring desk

मिर्जापुर। कोरोना वायरस कोविड-19 से हर कोई  भयभीत है। इस वायरस का खौफ इतना बढ़ चुका है कि किसी को संक्रमण होने पर लोग उसके परिवार से तक दूरी बना ले रहे हैं। यदि किसी व्यक्ति की इस वायरस से मृत्यु हो जाती है तो उसकी डेड बॉडी लेने और अंतिम संस्कार करने में भी परिजन डर रहे हैं। लेकिन उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर में एक मॉ की ममता कोरोना वायरस से बिल्कुल भी विचलित नहीं हुई। रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद भी यह मॉं आइसोलेशन वार्ड में भर्ती है। दरअसल उसके पॉच वर्षीय बेटे की रिपोर्ट आनी अभी बाकी है। महिला ने अपने पुत्र के साथ तब तक आइसोलेशन वार्ड में रहने का फैसला किया है, जब तक उसके पुत्र की रिपोर्ट नहीं आ जाती।

mother love

 

सात मई को मुंबई से मिर्जापुर लौटी एक महिला कोरोना संक्रमित मिली थी जिसके बाद उसके परिवार के लोग भी कोरोना संक्रमण के संदेह में आ गए। महिला समेत उसके परिवार के आठ लोगों की रिपोर्ट नेगेटिव आ चुकी है। इसमें महिला की देवरानी भी है। हालांकि संक्रमित हुई महिला की रिपोर्ट निगेटिव आई थी। आइसोलेशन वार्ड में महिला की देवरानी अपने पांच वर्षीय पुत्र के साथ भर्ती थी। रिपोर्ट नेगेटिव आने पर अन्य लोग तो चले गए पर पांच वर्षीय बच्चे की मां ने अस्पताल स्टाफ से मिन्नतें कर कहा कि उसका बेटा छोटा है, इसलिए उसे भी उसके साथ रहने दिया जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *