न्यूज़

उत्तराखंड में प्रवासियों को अब यह फायदा मिलेगा

Report ring desk

देहरादून। उत्तराखंड लौटे प्रवासियों के लिए राज्य सरकार ने दो माह तक मुफ्त में पांच किलो चावल और एक किलो चना देने की व्यवस्था कर ली है। एक जून से राशन की दुकानों में प्रवासियों को यह राशन मिलना शुरू हो जाएगा जिसका लाभ लगभग तीन लाख प्रवासियों को मिलेगा।

केंद्रीय खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री राम विलास पासवान ने आत्मनिर्भर भारत योजना के तहत सस्ता राशन वितरण को लेकर राज्यों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग की। इस कांफ्रेंसिंग में कैबिनेट मंत्री मदन कौशिक ने यह प्रस्ताव रखा कि बाहरी राज्यों से लौट रहे प्रवासियों को राशन वितरित के लिए रशन कार्ड की शर्त को हटाया जाए।

सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत राशन कार्डों को नेशनल पोर्टेबिलिटी को लागू करने में भी सरकार को पहाड़ों में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। कैबिनेट मंत्री ने बताया कि सस्ते गल्ले की दुकानों को ऑनलाइन करने के लिए जन सेवा केंद्र के साथ एमओयू किया गया है। प्रदेश की 72 सौ दुकानों में बायोमेट्रिक सिस्टम और ऑनलाइन ट्रांजक्शन मशीन लग चुकी हैं। पहाड़ में दो हजार ऐसी छोटी दुकानें हैं जहां पर कार्ड धारकों की संख्या 200 से कम है, ऐसे डीलरों को सिटम लगाने में दिक्कत आ रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *