देश दुनिया न्यूज़

भारत ने भी लगायी बोइंग 737 मैक्स 8 विमानों की उड़ान पर रोक

छह महीने में दूसरी बार हुआ इस मॉडल के साथ हादसा

 नई दिल्ली। इथोपियन एयरलाइन के विमान हादसे के बाद चीन, सिंगापुर सहित दुनिया के तमाम देशों ने बोइंग 737 मैक्स 8 विमानों की उड़ानों को रोक दिया है। अब इसी कड़ी में भारत ने भी सख्त कदम उठाते हुए इन विमानों की उड़ान तत्काल प्रभाव से रोक दी है। डीजीसीए (डायरेक्टोरेट जनरल ऑफ सिविल एविएशन) ने भारतीय विमान कंपनियों द्वारा बोइंग 737 मैक्स 8 विमानों के इस्तेमाल पर तत्काल प्रभाव से रोक लगाने का फैसला किया है। डीजीसीए ने मंगलवार देर शाम ट्वीट के जरिए यह जानकारी दी और कहा कि ये विमान तब तक सेवा से बाहर रहेंगे जब तक इनमें जरूरी बदलाव और सुरक्षा के लिए जरूर उपाय नहीं किये जाते हैं। इसके साथ ही डीजीसीए ने यह भी कहा कि यात्रियों की सुरक्षा हमेशा हमारी प्राथमिकता रहती है। इस कड़ी में हम यात्रियों की सुरक्षा के लिए दुनियाभर के विमान निर्माताओं और परिचालकों के संपर्क में रहते हैं।

गौरतलब है कि इथोपियन एयरलाइन का बोइंग 737 मैक्स 8 विमान रविवार को इथोपिया के अदीस अबाबा के नजदीक हादसे का शिकार हो गया था। यह विमान केन्या की राजधानी नैरोबी जा रहा था। जिसमें सवार सभी 157 लोगों की मौत हो गई थी।

इस घटना के बाद ‘बोइंग 737 मैक्स’ विमानों को लेकर दुनियाभर में डर का माहौल बन गया है। इस बाबत ब्रिटेन, फ्रांस, जर्मनी, आस्ट्रेलिया सहित विभिन्न देशों ने अपने अपने वायुक्षेत्र में ‘बोइंग 737 मैक्स’ विमानों की उड़ान पर रोक लगा दी। दूसरी तरफ, अमेरिकी नियामकों ने बोइंग को मॉडल में तत्काल सुधार करने का आदेश दिया है। हालांकि ब्रिटेन, फ्रांस, जर्मनी, सिंगापुर, आस्ट्रेलिया, मलेशिया, आयरलैंड, आइसलैंड और ओमान जैसे देशों ने भी इन विमानों के परिचालन पर अस्थायी रूप से रोक लगाने का फैसला किया है। इससे पहले, चीन और इंडोनेशिया भी सोमवार को इन विमानों पर रोक लगा चुके हैं।

बता दें कि पिछले छह महीने के भीतर बोइंग 737 मैक्स 8 विमान के साथ हुई यह दूसरी दुर्घटना है। पिछले साल अक्टूबर में लायन एयरलाइन का एक विमान इंडोनेशिया में दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। जिसमें 180 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई थी।

2017 में आया था यह मॉडल

बताया जाता है कि बोइंग का यह नया मॉडल 2017 में तमाम दावों के बाद उड़ान के लिए तैयार किया गया था। अब तक कंपनी ने इस मॉडल के 350 विमान बेच दिए हैं। जिसमें से 96 चीन के पास हैं, वहीं अमेरिका, सिंगापुर, कनाडा, भारत आदि देशों ने भी ये विमान खरीदे हैं। वहीं अन्य देशों ने इस मॉडल के आर्डर भी दिए हैं।

डीजीसीए का ट्वीट

DGCA has taken the decision to ground the Boeing 737-MAX planes immediately. These planes will be grounded till appropriate modifications and safety measures are undertaken to ensure their safe operations. (1/2)

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *