IAF_Pilot_Abhinandan_Varthman_ANI_Pic__1551532605
Uncategorized न्यूज़

पाकिस्तान में मुझे मानसिक यातनाएं दी गई- विंग कमांडर अभिनंदन

नई दिल्ली। भारतीय वायुसेना के विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान ने पाकिस्तान से लौटने के बाद अपना दर्द बयां किया। समाचार एजेंसी एएनआई ने सूत्रों के मुताबिक खबर दी है कि अभिनंदन ने भारतीय वायुसेना (आईएएफ) के अधिकारियों को बताया कि उन्हें पाकिस्तान में शारीरिक पीड़ा तो नहीं दी गई, लेकन उन्हें काफी मानसिक यातनाएं दी गई।

बुधवार को एफ-16 लड़ाकू विमान को मार गिराते वक्त मिग-21 बिसन में सवार अभिनंदन का विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया। अभिनंदन करीब 50 से ज्यादा घंटे तक पाकिस्तान की हिरासत में रहे। भारतीय रक्षा प्रतिष्ठानों पर हमले के उद्देश्य से जब पाकिस्तानी लड़ाकू विमानों ने भारतीय वायुसीमा का उल्लंघन कर फायरिंग की। जिसका जवाब देने के लिए भारतीय लड़ाकू विमानों ने आसमान में उन्हें सीधी चुनौती दी। जिसके बाद पाकिस्तानी विमानों को भाग खड़ा होना पड़ा।
इससे पहले रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने विंग कमांडर अभिनंदन से अस्पताल जाकर मुलाकात की। अभिनंदन शुक्रवार रात लगभग सवा नौ बजे अटारी-वाघा बॉर्डर के रास्ते दिल्ली लौटे हैं।

ऐसे पाकिस्तान की सेना के हिरासत में आए अभिनंदन

विंग कमांडर अभिनंदन को पाकिस्तान के अधिकारियों की तरफ से उस वक्त पकड़ लिया गया था जब नियंत्रण रेखा के उस पार उनका मिग-21 बिसन विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया। इस दौरान उन्होंने एक पाकिस्तान के अत्याधुनिक एफ-16 लड़ाकू विमान को भी मार गिराया। लेकिन, जब वे पैराशूट का इस्तेमाल कर नीचे उतरे तो उन्हें पता चला कि वह पाकिस्तान के नियंत्रण वाले जम्मू कश्मीर में है और उन्हें पाकिस्तान सेना के हवाले कर दिया गया।

भारत वापस आने के बाद अब वायु सेना के पायलट अभिनंदन को ‘कूलिंग डाउन’ की प्रक्रिया के तहत गुजरना होगा और ये चीजें अभी कुछ दिनों तक लगातार जारी रह सकती है। इस अभ्यास के तहत उन्हें मेडिकल पर्यवेक्षण में रखा जाएगा और एयर फोर्स की तरफ से काउंसलिंग कराई जाएगी।

भारत पहुंचने के बाद अभिनंदन को शुरुआती जांच से गुजरना पड़ा। उनका शनिवार को कुछ और मेडिकल टेस्ट कराया जाएगा। सूत्रों के मुताबिक, अब वायुसेना की पहली प्राथमिकता अभिनंदन के स्वास्थ्य को सामान्य हालत में लाने की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *