यूथ

चीजों को सोचने समझने में करें लाॅकडाउन का उपयोग

by Deepak Kapari

छुट्टियों में रूटीन बनाना बहुत जरूरी होता है। आसान सा! कितने बजे उठना है, सोना है, थोड़ी सी कसरत नहीं की तो आप उलझे रहेंगे और तब तक लॉकडाउन खत्म हो जाएगा।
सिर्फ बाहर जाने पर लॉकडॉउन है, गाना गाने, सुनने, मूवी देखने, खाना बनाने, किताबें पढ़ने, घर वालों और पड़ोसियों से बात करने में नहीं। मजेदार और प्रोडक्टिव मूवी देखिए, अच्छी किताबें पढ़िए, नई नई डिशेस बनाइए, आस पास के बच्चों से बात करिए । उनको बीमारी के बारे में जागरूक करिए, अगर आपके खेत हैं तो अभी जो फसलें उग रही हैं, काटी जा रही हैं उनके बारे में जानिए और सीखिए भी, मज़ा आएगा ।

how to utilize your time during lockdown
कोई एक ऐसा विषय, चीज चुनिए जिसमें आपको अधिक रुचि है, उसे सबसे ज्यादा समय दीजिए। जैसे मेरा फिजिक्स है तो मैं उसे थोड़ा अधिक समय देता हूं।

एक काम और करिए, पूरा विश्व हेल्थ इमरजेंसी से गुजर रहा है तो अपने शहर, अपने प्रदेश, अपने देश, पड़ोसी देशों और दुनिया के देशों के हेल्थ केयर सिस्टम को जानिए समझिए। आपके, किसी देश में स्वास्थ्य सेवाएं इतनी बुरी और किसी देश में इतनी अच्छी क्यों है, इस पर सोचिए। सरकार क्या क्या कदम उठा रही है उन पर नजर रखिए (अन्य देशों के कदम भी देखिए, विश्लेषण करिए)। चीजों को सोचने समझने के लिए खूब समय  है।

लेखक पिथौरागढ़ महाविद्यालय से बीएससी कर रहे हैं।

नोट – लाॅकडाउन के इस दौर में घर पर बैठकर आप क्या रहे हैं। अपने हालचाल या फिर बदली इस दिनचर्या के बारे में बताना चाहते हैं तो हमें 200 से 300 शब्दों में लिखकर भेजें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *