धर्म कर्म

हरतालिका तीज कल, पति की लंबी आयु के लिए सुहागिन रखती हैं व्रत

Report ring desk

हरियाली तीज को हरतालिका तीज भी कहा जाता है। यह सावन मास की शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को मनाई जाती है। इस बार हरियाली तीज 11 अगस्त यानी बुधवार को मनाई जाएगी।

हिंदू धर्म में व्रत और त्येहारों का बहुत महत्व है। माना जाता है कि त्योहारों पर व्रत करने से जीवन में सुख समृद्धि का वास होता है। इसके अलावा वैवाहिक जीवन की समस्याएं भी दूर होती हैं। ऐसे प्रमुख तीज त्यौहारों में हरियाली तीज भी है। ज्योतिष के अनुसार, हरतालिका तीज सावन मास की शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को मनाई जाती है। इस दिन सुहागिन महिलाएं पति की लंबी आयु के लिए व्रत रखती हैं।

हरतालिका तीज का महत्व

शास्त्रों के अनुसार, हरियाली तीज के दिन भगवान शिव और माता पार्वती की पूजा करने विधान है। मान्यताओं के अनुसार, इस दिन भगवान शिव और मां पार्वती का पुनर्मिलन हुआ था। इसलिए, हरियाली तीज पर सुहागिनों स्त्रियां अपने पति की लंबी आयु के लिए व्रत करती हैं। इस दिन सुहागिन महिलाएं भगवान भगवान शिव और मां पार्वती की पूजा करती हैं। पूजा में श्रृंगार की वस्तुएं मां पार्वती को चढ़ाई जाती हैं।

इसके बाद हरियाली तीज की कथा सुनकर सास या अपने से बड़ी महिलाओं का आशीर्वाद लेकर उन्हें उपहार भेंट करती हैं। इस तरह से इस व्रत का विधि.विधान पूर्ण माना जाता है। हरियाली तीज का पर्व हर साल श्रावण मास में शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को मनाया जाता है, इसे श्रावणी तीज भी कहते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *