Farewell of bride could not be done in eight days
न्यूज़

आठ दिन में भी नहीं हो पाई दुल्हन की विदाई, बारात भी लाॅकडाउन

Report ring desk

शादी के आठ दिन बाद भी दुल्हन की विदाई नहीं हो पायी है। बारात भी दुल्हन के घर पर ही है। दुल्हन पक्ष को रोजाना 75 बारातियों के खाने का इंतजाम करना पड़ रहा है। दरअसल लड़की की विदाई देश में चल रहे लाॅकडाउन के चलते नहीं हो पायी है। यह मामला झारखंड के रामगढ़ प्रखंड का है।
रामगढ़ प्रखंड के अरगडा गांव में स्व. राजकपूर जगदल्ला की बेटी मोनिका की शादी 22 मार्च को होनी थी। जनता कर्फ्यू के चलते बारात नहीं आ पायी। दूसरे दिन यानी 23 मार्च को पश्चिम बंगाल के आसनसोल निवासी दासू दीप के बेटे राकेश दीप की बारात अरगडा पहुंची और शादी भी हो गयी। मंगलवार 24 मार्च को 21 दिनों के लिए देशभर में लॉकडाउन की घोषणा हुई जिसके बाद दुल्हन को विदा नहीं किया जा सका। बारात के रुकने की व्यवस्था गांव के पंचायत घर पर की गयी है। दुल्हन वाले किसी तरह बारातियों के खाने पीने का इंतजाम कर रहे हैं। बाराती और शादी में आए रिश्तेदार घर जाने के लिए बेताब हैं। वहीं दुल्हन पक्ष वाले भी विदाई का इंतजार कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *