न्यूज़

कोरोना से नुकसान में उद्योग-धंधे, बैठक में उद्यमियों ने गिनाई समस्याएं

Report ring desk

हल्द्वानी। सर्किट हाउस में उद्योग मित्र की बैठक में मुख्य विकास अधिकारी विनीत कुमार ने कहा कि उद्योगों को सरकारी योजनाओं का शतप्रतिशत लाभ मिले इसके लिए सभी अधिकारी सक्रियता से कार्य करें। उन्होंने कहा कि कोरोना कोविड-19 के कारण उद्योग काफी समय बन्द रहे हैं, जिससे उद्योगों को भी नुकसान उठाना पड़ा है।

बैठक में उद्यमियों द्वारा राज्य कर वैट रिफंड से सम्बन्धित लम्बित प्रकरणों पर कार्यवाही करने की मांग उठाई गई। जिस पर सहायक आयुक्त ने बताया कि वर्ष 2016-17 के दावोें पर सत्यापन की कार्यवाही गतिमान है। मुख्य विकास अधिकारी ने लम्बित प्रकरणों का सत्यापन करते हुये वैट रिफंड कराने के निर्देश दिये। साथ ही उद्योग मित्र की बैठक का हवाला देते हुये पत्र आयुक्त राज्यकर भेजने के निर्देश जीएम डीआईसी विपिन कुमार को दिये। हिमालयन चैम्बर आफ कामर्स द्वारा उत्तराखण्ड शासन की स्टोन क्रशर नीति में पल्पराइजर को सम्मिलित न करने का अनुरोध किया, जिस पर मुख्य विकास अधिकारी ने कहा कि यह नीतिगत मामला है। इस फोरम के माध्यम से शासन को इस बावत पत्र प्रेषित करने के निर्देश जीएम डीआईसी को दिये।
बैठक में अध्यक्ष हिमालय चैम्बर आफ कामर्स आरसी बिन्जौला, सचिव मनोज डांगा, पूर्व अध्यक्ष एवं उद्यमी बीके लाहोटी,उपाध्यक्ष चैम्बर उमेश डालाकोटी, उद्यमी भोलानाथ केसरवानी, महाप्रबन्धक उद्योग विपिन कुमार, जिला अग्रणी बैंक अधिकारी एमएस जंगपांगी, सहायक आयुक्त राज्यकर उर्मिला पिंचा, अधिशासी अभियन्ता लोनिवि एबी काण्डपाल, महेन्द्र कुमार सहित अनेक अधिकारी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *