देश दुनिया न्यूज़

चुनाव तारीखों का हुआ ऐलान, सात चरणों में होंगे लोकसभा चुनाव, पढ़िए पूरी ख़बर

11 अप्रैल से 19 मई तक सात चरणों में होगी वोटिंग, 23 मई को आएंगे चुनाव नतीजे। 23 को पता चल जाएगा कौन संभालेगा देश की कमान? मोदी फिर से आएंगे सत्ता में या विपक्ष कर पाएगा एनडीए को सत्ता से बेदखल। 90 करोड़ मतदाता करेंगे तमाम नेताओं के भाग्य का फैसला। बस आप भी बनाए रखिए नजर। 
नई दिल्ली।  के सबसे बड़े लोकतंत्र के महासमर का शंखनाद हो चुका है। 11 अप्रैल को पहले चरण के चुनाव होंगे, जबकि 19 मई को आखिरी यानी सातवें चरण के चुनाव आयोजित किए जाएंगे। इससे पहले चुनाव आयोग ने 10 मार्च को लोकसभा चुनावों की तारीखों का ऐलान कर दिया। आयोग ने बताया कि सात चरणों में लोकसभा चुनाव आयोजित होंगे और 23 मई को नतीजे घोषित किए जाएंगे। मुख्य चुनाव आयुक्त ने चुनाव तिथियों का ऐलान करते हुए कहा कि पहले सभी एजेंसियों से राय ली गयी। उन्होंने कहा कि चुनावी खर्चे पर विशेष निगरानी रखी जाएगी। त्‍योहारों का भी ध्‍यान रखा गया है। उन्होंने कहा कि इस बार चुनाव में 90 करोड़ लोग वोट डालेंगे।
मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा कि हम चुनाव के लिए काफी पहले से ही तैयारी कर रहे थे। सभी राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों के चुनाव आयुक्त से बात की गयी। उन्हें तैयारी करने के लिए कह दिया गया था। कानून व्यवस्था की स्थिति का भी आंकलन किया गया। पूरी तैयारियां करने के बाद ही चुनाव की तारीखों का ऐलान किया जा रहा है।

 विज्ञान भवन में आयोजित प्रेस कांफ्रेंस के दौरान चुनाव आयोग के अधिकारियों ने कहा कि इस बार ईवीएम मशीनों की सुरक्षा का पूरा ख्याल रखा जा रहा है। आज से ही आचार संहिता लागू हो गई है। किसी भी तरह की नियम उल्लघन पर कार्रवाई की जाएगी। सभी उम्मीदवारों को अपनी संपति और शिक्षा का ब्यौरा देना होगा। फॉर्म 26 भरना होगा। साथ कहा गया है कि लाउड स्पीकर का इस्तेमाल रात 10 से सुबह छह तक बंद रखना होगा। हमारा फोकस ध्वनि प्रदूषण को कम करना है। सीआरपीएफ को बड़ी संख्या में तैनात किया जाएगा।

मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा कि इस बार एक ऐप भी लांच होगा, जिसकी मदद से कोई भी मतदाता किसी भी नियम उल्लंघन को कैमरे में कैद कर सीधे हमें भेज सकेगा। उन्होंने कहा कि इस बार समाधान वेब पोर्टल भी होगा, आम जनता इस पोर्टल के जरिये फीडबैक दे पाएगी। साथ ही सभी बूथ पर सीसीटीवी कैमरा होगा। चुनाव आयुक्त ने कहा कि मतदाताओं तक पहुंचने के लिए हर तरह की कोशिश की गई है। हम एक भी मतदाता नहीं छोडना चाहते हैं। सोशल मीडिया पर भी नजर रखी जाएगी. सोशल मीडिया पर कैंपेनिंग का खर्चा भी जोड़ा जाएगा।

गौरतलब है कि मौजूदा लोकसभा का कार्यकाल 3 जून को खत्म हो जाएगा। साल 2014 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में बीजेपी पहली ऐसी पार्टी बनी थी जो तीन दशकों में पहली पूर्ण बहुमत पाई थी। बीजेपी को 282 सीटें मिली थीं। जबकि एनडीए को 336 सीटें हासिल हुई थी। वहीं कांग्रेस इस चुनाव में बुरी तरह से हारी थी और उसे मात्र 44 सीटें जीत पायी थी।

 बताया जाता है कि इस बार भी ऐसे मतदाताओं की संख्‍या बड़ी है जो पहली बार वोट डालेंगे। मुख्य निर्वाचन आयुक्त सुनील अरोड़ा ने रविवार को कहा कि इस बार लोकसभा चुनाव में मतदान करनेवालों की संख्या लगभग 90 करोड़ होगी। उन्होंने आगामी चुनाव को लोकतंत्र का सबसे बड़ा त्योहार बताया। उन्होंने कहा कि इस बार लगभग 10 लाख मतदान केंद्र होंगे, जो 2014 के आम चुनाव में रहे नौ लाख से अधिक हैं। कुल मतदाताओं में 1.50 करोड़ मतदाता 18-19 साल उम्र के होंगे। उन्होंने कहा, “निर्वाचन आयोग ने चुनाव के लिए एक बहुत ही व्यापक तैयारी की है।”

पहले चरण के चुनाव- 11 अप्रैल
दूसरा चरण- 18 अप्रैल
तीसरा चरण- 23 अप्रैल
चौथा चरण- 29 अप्रैल
पांचवा चरण- 6 मई
छठा चरण- 12 मई
सातवां चरण- 19 मई 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *