corona
कला संस्कृति

कोरोना, कोरोना, कोरोना !

by Harish ( Harda Pahari )

क्या है यह
कहाँ से है आई
संसार में
हर दिशा, हर तरफ
अचानक, ऐसी पीड़ा
यह लेकर है आई,
स्थगित हो गया सब
बंद हो गए काम ।
एक महामारी जिसे,
दिया “कोरोना” का नाम,
खाँसी, बुखार, छींक,
लक्षण हैं इसके
बिगड़ती हालत
अत्यंत भयानक,
परिणाम हैं इसके,
प्रधानमंत्री जी भी बोले
बचो इससे, दूरी बनाओ ।

बहुत बुरी महामारी है
न लेना हल्के में
बचने के उपाय अपनाओ,
रहो घर के अंदर
बाहर न आना
इन दिनों को सिर्फ
परिवार के संग मनाना,
दिनभर बार-बार
हाथ है धोना ।
न मिलाना हाथ किसी से
न किसी को घर है बुलाना,
न भोजन बाहर का
है करना,
यदि गए घर से बाहर
मास्क अवश्य है पहनना,
यदि बीमारी के दिखे लक्षण
करो सूचित स्वास्थ्य विभाग को
यदि हुई देर बताने में
तो मुमकिन न होगा बचना।

आप सब से अनुरोध है, कृपया इन दिनों घर पर ही रहें, इसी में भलाई है वरना खतरा कहीं  से भी आ सकता है, स्वस्थ रहें सुरक्षित रहें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *