देश दुनिया न्यूज़

चीन हर मोर्चे पर अग्रणी भूमिका में आएगा नज़र

By Anil pandey, China media group

कोविड-19 महामारी के प्रसार को रोकने में चीन अहम भूमिका निभा रहा है। देश के भीतर सफलता से महामारी को काबू में करने के बावजूद चीन ने चैन की सांस नहीं ली है। चीनी नेता और नागरिक अब भी सतर्कता बरत रहे हैं। चीन ने न केवल घरेलू स्तर पर बीमारी को नियंत्रण करने पर जोर दिया, बल्कि अंतर्राष्ट्रीय लेवल पर भी चीन पूरा सहयोग दे रहा है। ईरान से लेकर अफ्रीका में चीन ने मेडिकल राहत सामग्री व विशेषज्ञ भेजे। इतना ही नहीं अमेरिका द्वारा विश्व स्वास्थ्य संगठन को आर्थिक मदद देने से इनकार किए जाने पर भी चीन आगे आया और सहायता की। क्योंकि यह ऐसा वक्त है, जब हमें इस कोरोना वायरस की महामारी से लड़ने के लिए वैश्विक सहयोग की जरूरत है। लेकिन विश्व का सबसे शक्तिशाली देश अमेरिका ऐसी मुश्किल घड़ी में साथ देने के बजाय आरोप लगाने में व्यस्त है।

हमें चीन की भूमिका को राष्ट्रपति शी चिनफिंग के उस बयान से जोड़कर देखना चाहिए, जिसमें उन्होंने कहा है कि, चीन कोविड-19 पर पूरी तरह नियंत्रण करने के लिए कदम उठाता रहेगा। हालांकि इस दौरान स्कूल और विभिन्न व्यवसायों को खोलने के लिए भी प्रतिबद्ध है। एक ओर चीन ने इस महामारी को रोकने के लिए जो प्रभावी उपाय अपनाए, वहीं अमेरिका जैसे देश सही समय पर कार्रवाई करने में विफल रहे। इसका नतीज़ा यह हुआ है वहां लाखों लोग महामारी की चपेट में आ चुके हैं।

इसके साथ ही चीन एक और मिशन को गंभीरता से पूरा करने में जुटा हुआ है, वह है गरीबी उन्मूलन का लक्ष्य। जैसा कि हम जानते हैं कि चीन में साल 2020 गरीबी को जड़ से उखाड़ फेंकने का वर्ष निर्धारित किया है। वायरस के प्रभाव के चलते पेश आयी चुनौतियों से भी चीन अपने मिशन से पीछे नहीं हटा है। राष्ट्रपति शी के ताज़ा ऐलान से भी इसकी पुष्टि होती है। उन्होंने कहा कि, इस वर्ष गरीबी उन्मूलन का लक्ष्य पूरा करने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ी जाएगी।

चीनी राष्ट्रपति के शब्दों में, चीन ने कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में रणनीतिक सफलता हासिल की है। अब आगे लोगों को गरीबी रेखा से बाहर निकलने की चुनौती है। इसके लिए चीन कमर कस चुका है।

गौरतलब है कि अभी समूचा विश्व कोरोना वायरस के संकट से जूझ रहा है। एक ज़िम्मेदार देश होने के नाते चीन अन्य देशों को हर संभव मदद दे रहा है। जाहिर सी बात है कि चीन अपनी घरेलू परेशानियों के साथ-साथ वैश्विक स्तर पर भी नज़र बनाए हुए है। कहना होगा कि इस संकट को खत्म करने में अग्रणी भूमिका निभाकर चीन ग्लोबल लेवल पर अपना कद और ऊंचा कर लेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *