न्यूज़

सीडीएस जनरल बिपिन रावत पंचतत्व में विलीन, बेटियों ने किया अंतिम संस्कार

देशभर से आए राजनेताओं व गणमान्य लोगों ने दी श्रद्धांजलि

Report ring Desk

नई दिल्ली। देश के पहले चीफ ऑफ डिफेंस स्टॉफ (सीडीएस)जनरल बिपिन रावत पंचतत्व में विलीन हो गए। सीडीएस रावत के साथ उनकी धर्मपत्नी मधुलिका रावत का भी अंतिम संस्कार किया गया। दिल्ली कैंट स्थित बरार स्क्ïवायर में पूरे सैन्य सम्मान के साथ दोनों का अंतिम संस्कार किया गया। इस दौरान रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह मौजूद रहे। उनकी दोनों बेटियों कृतिका और तारिणी ने रीति-रिवाज के साथ उनका अंतिम संस्कार किया। परिवार के सदस्य भी उन्हें अंतिम विदाई देने शामिल हुए। रक्षामंत्री राजनाथ सिंह, कानून मंत्री किरेन रिजिजू, उत्तराखण्ड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी, भारत में फ्रांस के राजदूत इमैनुएल लेनिन और भारत में ब्रिटिश उच्चायुक्त एलेक्स एलिस भी अंत्येष्टि स्थल पर मौजूद रहे।

लगभग 800 सैन्यकर्मियों के साथ बरार स्क्वायर पर जनरल रावत को 17 तोपों की सलामी दी गई। अंतिम यात्रा में उमड़े लोगों के हुजूम ने ‘भारत माता की जय, ‘वंदे मातरम’ और ‘जनरल रावत अमर रहें’ जैसे नारे लगाए। इससे पहले जनरल रावत की अंतिम यात्रा यहां उनके आधिकारिक आवास से शुरू हुई, रास्ते में हजारों लोगों ने उन्हें श्रद्धांजलि दी।

इससे पूर्व राजधानी दिल्ली स्थित उनके आवास 3, कामराज मार्ग पर सीडीएस जनरल बिपिन रावत और उनकी पत्नी मधुलिका रावत का पार्थिव शरीर अंतिम दर्शन के लिए रखा गया गया था। अंतिम दर्शन के लिए पहले से ही यहां पर देशभर से गणमान्य लोग पहुंचे।

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला, भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा, कांग्रेस नेता राहुल गांधी, उत्तराखण्ड के सीएम पुष्कर सिंह धामी, पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल समेत देश भर के राजनेता और तमाम गणमान्य लोगों नेे उन्हें श्रद्धांजलि दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *